NEET-JEE Exam: CM शिवराज बोले- तय समय पर हो परीक्षाएं, छात्रों का ना हो साल बर्बाद

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना महामारी के चलते देशभर में नीट-जेईई परीक्षा को स्थगित करवाने विरोध चल रहा है। विपक्षी दल सरकार के खिलाफ मोर्चा खोले हुए है।सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक परीक्षा को टालने की मांग उठाई जा रही है। इसी बीच मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान (Chief Minister Shivraj Chauhan) ने बड़ा बयान दिया है। सीएम शिवराज ने NEET और JEE परीक्षाओं को आयोजित किए जाने को लेकर वकालत की है।वही यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी इसका समर्थन किया है।

मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कहा कि NEET और JEE परीक्षाएं समय पर ही आयोजित होनी चाहिए ताकि हमारे छात्रों का एक साल बर्बाद न हो। यह उनके भविष्य के बारे में है।उन्होंने कहा ये हजारों बच्चों के भविष्य का सवाल है इसलिए इसके साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। शिवराज से पहले यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी परीक्षा का समर्थन किया है।योगी का कहना है कि प्रदेश सरकार नीट तथा जेईई परीक्षाओं के आयोजन का समर्थन करती है

कांग्रेस ने पत्र लिखकर की है परीक्षा स्थगित करने की मांग
हाल ही में मध्य प्रदेश के पूर्व मंत्री व प्रदेश कांग्रेस कमेटी (PCC) के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने इस मामले को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा है। पटवारी ने सीएम शिवराज से ये परीक्षाएं रद्द कराने की मांग की है। पत्र में लिखा कि लाखों बच्चों की सेहत का ध्यान रखते हुए NEET और JEE की परीक्षाएं नहीं कराई जानी चाहिए। इसके पीछे उन्होंने तेजी फैल रहे कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा बताया है। जीतू पटवारी ने मुख्यमंत्री शिवराज को सुझाव दिया कि वे इस मामले में केंद्र सरकार को पत्र भी लिख सकते हैं।वही पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी ट्वीटर के माध्यम से इसे टालने की बात कही है।

 6 राज्यों का विरोध, सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मामला

देशभर में नीट-जेईई परीक्षा के विरोध में बवाल जारी है। सोशल मीडिया पर 28 तारीख सेकांग्रेस की ओर से राष्ट्रव्यापी ऑनलाइन अभियान #SpeakUpForStudentSaftey शुरू किया गया है। वही देश के 6 राज्यों ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। इन 6 राज्यों में पश्चिम बंगाल, झारखंड. राजस्थान, छत्तीसगढ़ पंजाब और महाराष्ट्र शामिल हैं। इन 6 राज्यों के मंत्रियों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है और अदालत के 17 अगस्त के आदेश की समीक्षा करने और सितंबर में होने वाली JEE NEET को स्थगित करने की मांग की है। वहीं दूसरी देश-विदेश के 150 से ज्यादा शिक्षाविदों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को चिट्ठी लिखकर अपील की है कि परीक्षाएं रोक दी जाएं।लेकिन परीक्षाओं करवाने को लेकर एमपी-यूपी के सीएम ने इसका समर्थन किया है।

बता दे कि JEE की परीक्षा 1 से 6 सितंबर के बीच होगी और NEET की परीक्षा 13 सितंबर को कराई जाएगी। अबतक 80 प्रतिशत छात्र NTA JEE Mains 2020 परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड डाउनलोड (NEET 2020 Admit Card) कर लिए हैं। कुल पंजीकृत 8.58 लाख छात्रों में से 7.25 लाख छात्रों ने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here