आईपीएस आधिकारियो को सीएम कमलनाथ ने दी ये नसीहत

भोपाल।

मिंटो हॉल में सीएम कमलनाथ ने आईपीएस सर्विस मीट का जैसे ही उद्घाटन किया वैसे ही प्रदेश में पुलिस कमिश्नर सिस्टम लागू करने की मांग उठी। इस पर सीएम कमलनाथ ने कहा कि अभी इस विषय पर बात करने का सही समय नही है। सीएम ने कहा कि आप अपनी वर्दी का सम्मान करे क्यो कि आपकी वर्दी से बढ़कर कुछ नही है।

सीएम कमलनाथ ने कहा कि जैसे जैसे आर्थिक विकास बढ़ राह है वैसे वैसे आर्थिक अपराध भी सामने आ रहे है। इसलिए पुलिस को भी पराधों की प्रवृत्ति और प्रकृति से परिचित होना जरूरी है। इस मीट में प्रदेशभर भर के आईपीएस अफसर भाग ले रहे है। समिट में आईपीएस एसोसिशन के अध्यक्ष विजय यादव ने ने प्रदेश में पुलिस कमिश्नर सिस्टम लागू करने की मांग सीएम के सामने रखी। उन्होंने कहा पुलिस का काम बहुत टफ है। एमपी में पुलिस कमिश्नर सिस्टम लाना जरूरी है।

पुलिस कमिश्नर सिस्टम मंजूर नहीं किया है ना ही अस्वीकार किया है

सीएम कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में पुलिस कमिश्नर सिस्टम अभी मंजूर नहीं किया है, ना ही अस्वीकार किया गया है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि प्रदेश में पुलिस फोर्स को आधुनिक तकनीक से लैस किया जाएगा। मध्यप्रदेश में ग्वालियर, चंबल, विंध्य क्षेत्र में काफी चुनौतियां हैं। अपराधी अपराध के नए-नए तरीके ढूंढ़ रहे हैं। इंटरनेट के दौर में क्राइम के तरीके भी बदल गए हैं। आज से तीस साल पहले चिटफंड जैसी शिकायतें सुनने नहीं मिलती थीं। सरकार मप्र पुलिस को हाईटेक और तकनीक से लैस करने के लिए फंडिग करेगी। ऐसा करने से दूसरे प्रदेशों की तुलना में मध्यप्रदेश पुलिस सबसे आगे रह सकेगी। हम ऐसा सिस्टम बनाएं जिससे टेक्नालॉजी के मामले में मप्र पुलिस दूसरे राज्यों की पुलिस को ट्रेनिंग दे।