भोपाल, रायसेन और सिलवानी में NIA की रेड, चार को लिया हिरासत में

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआइए) दिल्ली की टीम ने रविवार सुबह भोपाल एवं रायसेन जिलों के चार जगहों पर एक साथ छापे मारे, टीम ने यहाँ से चार संदिग्ध आतंकियों को हिरासत में लिया है। बताया जा रहा है कि इन चारों का सम्बंध में इस्लामी स्टेट इन इराक़ एंड अलशाम (ISIS) माड्यूल से होने के इनपुट के बाद NIA की टीम ने यह कार्रवाई की है। फिलहाल चारों से पूछताछ की जा रही है। 

यह भी पढ़ें… यात्री के सीने में दर्द के चलते भोपाल एयरपोर्ट पर विमान की इमरजेंसी लैंडिंग, हुई मौत

बताया जा रहा है कि NIA ने जिला पुलिस के सहयोग से रविवार सुबह करीब साढ़े छह बजे भोपाल के गांधीनगर के अब्बास नगर में एक फ्लैट पर छापा मारकर हाफिज अनस नाम एक युवक को हिरासत में लिया है। पुलिस को शंका है कि हाफिज अनस के बड़े भाई का संबंध आइएसआइएस से है। हालांकि अनस का बड़ा भाई विदेश गया हुआ है। अनस अपनी मां, पत्नी और बेटे के साथ रहता है और फर्नीचर बनाने का काम करता है। अनस अभी कुछ दिन पहले ही अब्बास में रहने आया था। वही दूसरी तरफ़ NIA की एक अन्य टीम ने रविवार सुबह ताजुल मसाजिद के मदरसे में पढ़ने वाले युवक जुबेर मंसूरी को भी हिरासत में लिया। एनआइए की टीम रविवार सुबह भारी पुलिस बल के साथ मसाजिद इलाके में पहुंची, इस दौरान पुलिस बाहर रही वहीं टीम ने युवक जुबेर को हिरासत में लिया। सूत्रों के अनुसार जुबरे मंसूरी इंटरनेट मीडिया पर सक्रिय था। कुछ दिनों पहले ही उसने इंटरनेट मीडिया पर हथियारों से जुड़ी एक पोस्ट भी डाली थी। इसके साथ ही रायसेन के ईदगाह इलाके में भी NIA ने एक युवक को हिरासत में लिया। 

यह भी पढ़ें… आपदा में जनता के साथ खड़ी है शिवराज सरकार, नुकसान की भरपाई के लिए अब तक बांटे गए 25 करोड़ रुपये 

 एनआईए ने रविवार को सुबह 7 बजे से लेकर 10 बजे तक सिलवानी के वार्ड बारह नूरपुरा में छापामार कार्रवाई की है। नूरपुरा में स्थित जुबेर आत्मज सफीक मंसूरी उम्र 24 वर्ष के निवास पर लगातार तीन घंटे तक पड़ताल चलती रही। जुबेर को एनआईए टीम भोपाल से लेकर आई थी। बताया जाता है कि वह भोपाल के ताजुल मदरसा में शिक्षा प्राप्त कर रहा है। उसके घर पर एनआईए ने हर पहलू पर बारीकी से जांच की है। वही दूसरी तरफ़ NIA की टीम ने जिला पुलिस बल के साथ यह कार्रवाई की, इस दौरान भारी पुलिस बल टीम के साथ मौजूद रहा, वही दिनभर चली इस कार्रवाई से सनसनी फैली रही।