भोपाल, डेस्क रिपोर्ट
मध्यप्रदेश को 10 हजार करोड़ से अधिक लागत की 1,361 किलोमीटर लम्बी 45 सड़क परियोजनाओं की सौगात मिलने जा रही है। लगभग 50 विधानसभा क्षेत्रों को प्रभावित करने वाली सड़क व पुल परियोजनाओं का मंगलवार को केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी शिलान्यास एवं लोकार्पण करेंगे।

कार्यक्रम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुबह साढ़े 11 बजे होगा। इसकी अध्यक्षता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान करेंगे। इसमें केंद्रीय और प्रदेश के मंत्रियों के साथ सांसद-विधायक भी जुड़ेंगे। शिलान्यास/लोकार्पण कार्यक्रम में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. थावरचंद गेहलोत, पंचायत राज, ग्रामीण विकास, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, केन्द्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), पर्यटन एवं संस्कृति प्रहलाद सिंह पटेल, केन्द्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग राज्य मंत्री जन. (डॉ.) व्ही.के. सिंह (से.नि.) सहित मध्यप्रदेश शासन के मंत्रीगण, परियोजना क्षेत्र से जुड़े सांसद एवं विधायकगण भी शामिल होंगे|

इन परियोजनाओं का होगा शिलान्यास

इंदौर-हरदा सेक्शन फोन लेन चौड़ीकरण ननासा-पिडगांव, लागत 867 करोड़ रुपये। – हरदा-बैतूल सेक्शन फोन लेन चौड़ीकरण हरदा-टेमगांव, लागत 555 करोड़ रुपये। – हरदा-बैतूल सेक्शन फोन लेन चौड़ीकरण चिचोली-बैतूल, लागत 620 करोड़ रुपये। – कटनी बायपास फोन लेन चौड़ीकरण, लागत 194 करोड़ रुपये। – इंदौर-बैतूल राष्ट्रीय राजमार्ग 47, टीकमगढ़-पृथ्वीपुर राष्ट्रीय राजमार्ग 539, अंबुआ-दाहोद राष्ट्रीय राजमार्ग 56, दिनारा-पिछोर राष्ट्रीय राजमार्ग 346, गुलगंज-अमानगंज-पवई कटनी सड़क राष्ट्रीय राजमार्ग 43 विस्तार और सवाई माधोपुर-श्योपुर-गोरस-श्यामपुर सड़क राष्ट्रीय राजमार्ग 552 विस्तार सड़क के सुदुढ़ीकरण के काम, लागत 84 करोड़ रुपये, लंबाई 172 किलोमीटर। – सागर-खुरई-बीना सेक्शन में जिरई पर फोरलेन और जरुआ पर टू लेन आरओबी, लागत 144 करोड़ रुपये। – बेतवा नदी राष्ट्रीय राजमार्ग 539, राष्ट्रीय राजमार्ग 45 विस्तार के जबलपुर-डिंडौरी सेक्शन पर और इंदौर-बैतूल सेक्शन के क्षिप्रा नदी पर पुल, लागत 60 करोड़ रुपये। – केंद्रीय सड़क निधि से बानमौर से शनिचरा मंदिर, शनिचरा मंदिर से बटेश्वर पढ़ावली रिठौरा मार्ग, खेरा अजनौधा कुतवार से बिचौला रिठौरा मार्ग, पिछोर से दिनारा मार्ग से गिजौरा चंदेरी, पिछोर मार्ग से मनका, कछौवा गढ़रोली, खुरई, जंगीपुर, भितरवार, मानपुर कुल 59 किलोमीटर, लागत 85 करोड़ रुपये। लोकार्पण – रीवा-मैहर-कटनी-स्लीमनाबाद-जबलपुर-लखनादौन सेक्शन के फोर लेन का चौड़ीकरण, लागत दो हजार 983 करोड़ रुपये। राष्ट्रीय राजमार्ग 30 और 34, लंबाई 287 किलोमीटर। – ब्यावरा-पचोर-सारंगपुर-शाजापुर-मक्सी-देवास सेक्शन फोर लेन चौड़ीकरण, लागत- एक हजार 584 करोड़ रुपये। राष्ट्रीय राजमार्ग 52, लंबाई- 141 किलोमीटर। – भोपाल-ब्यावरा सेक्शन के लालघाटी से मुबारकपुर, भोपाल-सिंगारचोली आरओबी सहित फोर लेन का चौड़ीकरण, राष्ट्रीय राजमार्ग 46, लंबाई आठ किलोमीटर। लागत- 222 करोड़ रुपये। – भोपाल-सांची सेक्शन में दो लेन सड़क। राष्ट्रीय राजमार्ग 146, लागत 167 करोड़ रुपये। 54 किलोमीटर। – ग्वालियर-शिवपुरी सेक्शन में फोर लेन चौड़ीकरण। नौगांव से सतनवाड़ा। राष्ट्रीय राजमार्ग 46, लागत- एक हजार 55 करोड़ रुपये। लंबाई- सात किलोमीटर। – ग्वालियर-शिवपुरी सेक्शन मोहना टाउन हिस्से का चौड़ीकरण, ग्वालियर-झांसी सेक्शन के डबरा टाउन और सिमरिया टेकरी से हरीपुर तिराहा से जौरासी मंदिर पहुंच मार्ग। राष्ट्रीय राजमार्ग 46 व44, लागत 68 करोड़ रुपये। लंबाई 14 किलोमीटर। – सांची-सागर, रीवा-सिरमौर, सागर-छतरपुर, खिलचीपुर-जीरापुर टू लेन सड़क के काम। लागत 730 करोड़ रुपये। लंबाई 214 किलोमीटर। – ब्यावरा-मकसूदनगढ़, अंजड़-ठीकरी, जबलपुर-कुंडम-शाहपुरा-डिंडोरी और सागरटोला-कबीर चबूतरा सेक्शन सड़क का सुदृढ़ीकरण। लागत छह करोड़। लंबाई 12 किलोमीटर। – छतरपुर-उत्तर प्रदेश सीमा सेक्शन राष्ट्रीय राजमार्ग 34 पुल, धसान नदी पर पुल भोपाल-सांची-सागर राष्ट्रीय राजमार्ग 146 और सागर-छतरपुर- मध्यप्रदेश-उत्तर प्रदेश सीमा पर पुल निर्माण। राष्ट्रीय राजमार्ग 45, लंबाई 12 किलोमीटर। लागत छह करोड़ रुपये।