तहलका मचाएगी इस अधिकारी की ये किताब

भोपाल।
अपनी तेजतर्रार कार्यशैली और ईमानदार छवि के लिए जाने वाले राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी और वर्तमान में लोक निर्माण विभाग के उप सचिव नियाज अहमद की नई किताब ‘ONCE I WAS BLACK MAN’ इसी महीने के अंत तक बाजार में होगी। नियाज की छठवीं किताब है।यह किताब रंगभेद की थीम पर आधारित है ।

पिछले दो साल की रिसर्च के आधार पर नियाज ने ये साबित करने का प्रयास किया है कि विश्व शरीर के रंग के आधार पर चल रहा है। इस पुस्तक के माध्यम से वैज्ञानिक दृष्टिकोण बताते हुए नियाज ने व्यक्ति की प्रगति और विकास का आधार रंग बताया है। व्यक्ति का विकास रंग की श्रेष्ठता पर ही आधारित होता है, यह उन्होंने प्रामाणिक तरीके से बताने की इस किताब के माध्यम से कोशिश की है। इसके पहले भी अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम की जिंदगी पर लिखे ‘LOVE DEMANDS BLOOD’ ,’TALAQ TALAQ TALAQ’ ,’UNTOLD SECREATS OF MY ASHRAM’ को लेकर सुर्खियां बटोर चुके नियाज की यह पुस्तक वैश्विक स्तर पर लांच करने की तैयारी है।

बयानों से हमेशा चर्चा में रहते है नियाज
गौरतलब है कि नियाज खान अपनी टिप्पणी के कारण कई बार चर्चाओं में रहे हैं। ये वही नियाज़ खान हैं जिन्होंने अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम और उसकी प्रेमिका मोनिका बेदी पर किताब लिखने की इजाज़त सरकार से मांगी थी।हाल ही में उन्होंने पीएम मोदी से मांग की थी कि NRC के ज़रिए भ्रष्ट अफसरों को देश से बाहर करें। नियाज खान इससे पहले मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर अपने एक बयान के चलते चर्चाओं में रहे थे। तब उन्होंने अपनी किताब और अपना नया नाम खोजने का उल्लेख करते हुए कहा था, ‘पिछले छह महीनों से मैं इस पुस्तक के लिए और अपने लिए एक नया नाम ढूंढ रहा हूं, ताकि मैं अपनी मुस्लिम पहचान छिपा सकूं। खुद को नफरत की तलवार से बचाने के लिए यह जरूरी है।’ नियाज खान ने ‘डेस्टिनी इन ड्रग्स’, ‘ब्लैक ग्रेव’, ‘अनटोल्ड सीक्रेट ऑफ माई आश्रम’, ‘लव डिमांड्स ब्लड’ और ‘तलाक’ नामक उपन्यास लिखे हैं।