आदेश जारी नहीं होने से असमंजस में प्रोफेसर, उच्च शिक्षा विभाग स्थिति स्पष्ट करे

भोपाल| लॉक डाउन (Lockdown) के चौथे चरण को लेकर उच्च शिक्षा विभाग (Higher Education Department) द्वारा स्तिथि स्पष्ट नहीं करने से पूरे प्रदेश के महाविद्यालयों में असमंजश की स्थिति बनी हुई है| इस सम्बन्ध में प्रांतीय शासकीय महाविद्यालय प्राध्यापक संघ के प्रांत अध्यक्ष प्रोफ़ेसर कैलाश त्यागी ने प्रमुख सचिव, उच्च शिक्षा विभाग को पत्र लिखकर स्थिति स्पष्ट करने की मांग की है|

पत्र में संघ के प्रांत अध्यक्ष प्रोफ़ेसर कैलाश त्यागी ने कहा लॉकडाउन 2 के बाद परीक्षा संचालन एवं प्रवेश फार्म को दृष्टिगत रखते हुए शिक्षकों को ग्रीष्मावकाश की अवधि 18 मई से 20 जून तक के लिए कर्तव्य पर अनिवार्य रूप से उपस्थित रहने के लिए निर्देश दिए गए थे| लॉक डाउन 3 में भी सभी महाविद्यालयों को 17 मई तक बंद रखे जाने एवं शिक्षकों को मुख्यालय पर ही उपस्थित रहकर प्राचार्यों से संपर्क बनाए रखने के लिए निर्देशित किया गया था|

लॉक डाउन 4 में भी दिनांक 18 मई से 31 मई तक पूरे देश में स्कूल एवं कॉलेजों को गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा बंद रखे जाने के लिए मार्गदर्शिका जारी की गई| लेकिन इस बार उच्च शिक्षा विभाग द्वारा ना तो संस्थाएं बंद रखे जाने के संबंध में और ना ही ग्रीष्म अवकाश घोषित किए जाने के संबंध में कोई आदेश जारी किया गया है| जिस कारण पूरे प्रदेश में असमंजस की स्थिति व्याप्त है| वहीं शिक्षकों द्वारा अवगत कराया गया है कि प्रचारियों ने उन्हें महाविद्यालय में उपस्थित होकर कार्य करने के लिए आदेश दिया है जो कि गृह मंत्रालय भारत सरकार की गाइडलाइन का स्पष्ट उल्लंघन है| विभाग इस संबंध में स्पष्ट निर्देश जारी करें|