मध्य प्रदेश में अब टोल माफिया पर कसेगा शिकंजा

भोपाल। लोक निर्माण विभाग के मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने ऐलान किया है कि अब टोल माफिया के खिलाफ भी अभियान चलेगा। टोल माफिया पिछले कई सालों से सक्रिय है। माफिया को पनपाने वालों पर भी कार्रवाई होगी। मंत्री ने कहा कि धार की लेबड़-जावरा फोरलेन पर टोल वसूलने वाली कंपनी को नोटस दे रहे हैं्र, इसक ेबाद निलंबन की कार्रवाई भी करेंगे। मंत्री के ऐलान के बाद से एमपीआरडीसी में हड़कंप मचा हुआ है। क्योंकि आरडीसी में कई सालों से टोल ठेकेदारों को संरक्षण दिया जा रहा है। 

विधानसभा  में कांग्रेस विधायक राजवर्धन सिंह ने कहा कि प्रदेश की सबसे महंगी सड़क पर एक हजार से ज्यादा लोगों की दुर्घटना में मृत्यु हो चुकी है। सड़क में बड़े-बड़े गड्ढे हैं। ठेकेदार कंपनी कोई काम नहीं कर रही है। करार समाप्त कर सरकार टेकओवर करे। लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने माना कि सड़क को लेकर काफी शिकायतें हैं और यह गंभीर मामला है। अफसरों की टीम बनाकर जायजा लेने भेजेंगे। टोल माफिया पनप गया है। इसके खिलाफ अभियान छेड़ेने का भी वर्मा ने एलान किया। मंत्री ने कहा कि 15 साल से कई कंपनियां सड़क के नाम पर बैंक से कर्ज लेती हैं और घर में रख लेती हैं। टोल वसूली करती हैं पर सड़क का रखरखाव नहीं करतीं। ऐसे टोल माफिया के खिलाफ सरकार अभियान छेडऩे जा रही है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here