अब कृषि विभाग भी चलाएगा ‘शुद्ध के लिए युद्ध अभियान’, नकली खाद-बीज, कीटनाशक की होगी जांच

भोपाल| मिलावट मुक्त मप्र बनाने के लिए चल रहे ‘शुद्ध के लिए युद्ध’ अभियान में खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के बाद अब कृषि क्षेत्र में भी कार्रवाई होगी| नकली खाद, बीज, कीटनाशक में मिलावट करने वाले विक्रेताओं के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जायेगी| कृषिमंत्री सचिन यादव ने आज विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि मुख्यमंत्री की मंशा अनुरूप ‘शुद्ध के लिए युद्ध’ के तहत् पूरे प्रदेश में  खाद, बीज और कीटनाशकों की शुद्धता की जांच के लिए 15 से 30 नवंबर तक विशेष जांच अभियान चलाया जाए। 

मंत्री श्री यादव ने निर्देशित किया कि प्रत्येक जिले में  पर्याप्त संख्या में जांच दल गठित कर सभी विक्रेताओं से सेम्पलिंग और टेस्टिंग की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। अमानक सामग्री पाये जाने पर नियमानुसार कठोर कार्यवाही  करें। उन्होंने कहा कि किसानों को मानकों के अनुरूप खाद, बीज तथा कीटनाशक की उपलब्धता सुनिश्चित होना चाहिए। किसानों का हित सर्वोच्च प्राथमिकता है, इससे खिलवाड़ करने वालों से सख्ती से निपटा जाए।

 उल्लेखनीय है कि अभी तक विभाग द्वारा  लगभग 7 हजार 5सौ नमूने संग्रहित कर परीक्षण कराया गया है। 4 सौ अधिक  नमूने अमानक प्राप्त होने पर नियमानुसार कार्यवाही की गयी है।