खरगोन दंगों पर सीएम शिवराज के तीखे तेवर, दंगाइयों से होगी नुकसान की वसूली, की जाएगी कड़ी कार्रवाई

मध्यप्रदेश की धरती पर दंगाइयों का कोई स्थान नहीं है, दंगाई चिन्हित कर लिए गए है और केवल कार्रवाई का मतलब जेल भेजना नहीं जिनने पत्थर चलाए संपत्ति को नुकसान पहुचाया, उन्हे दंड दिया जाएगा, साथ ही सार्वजनिक संपत्ति हो या निजी जितना नुकसान हुआ उसकी वसूली भी दंगाइयों से की जाएगी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के खरगोन जिले में रविवार को रामनवमी पर निकाली गई शोभायात्रा पर हुए पथराव की घटना पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नाराजगी जताई है उन्होंने कहा है कि प्रदेश की धरती पर दंगाइयों का कोई स्थान नहीं है, घटना में शामिल दंगाइयों को चिन्हित कर लिया गया है। कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें…खरगोन में कर्फ्यू, SP को लगी गोली, भारी पुलिस बल तैनात, परीक्षाएं स्थगित, गृहमंत्री का बड़ा बयान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि-  पूरे प्रदेश में रामनवमी का पर्व धूमधाम और उत्साह के साथ मनाया गया, लेकिन खरगौन में दुर्भागायपूर्ण घटना हुई है, दंगाई छोड़े नहीं जायेगे, कठोरतम कार्रवाई की जाएगी, मध्यप्रदेश की धरती पर दंगाइयों का कोई स्थान नहीं है, दंगाई चिन्हित कर लिए गए है और केवल कार्रवाई का मतलब जेल भेजना नहीं जिनने पत्थर चलाए संपत्ति को नुकसान पहुचाया, उन्हे दंड दिया जाएगा, साथ ही सार्वजनिक संपत्ति हो या निजी जितना नुकसान हुआ उसकी वसूली भी दंगाइयों से की जाएगी,नुकसान का आकलन करके वसूली की जाएगी, किसी दंगाई को छोड़ेगे नहीं, कठोरतम कार्रवाई की जाएगी।

दरअसल, रविवार को खरगोन के तालाब चौक और तवड़ी इलाके में रामनवमी के जुलूस के दौरान कुछ लोगों ने इमलीपुरा क्षेत्र समेत कई जगहों पर पथराव कर दिया। वही तालाब चौक, भावसार मोहल्ला व गोशाला मार्ग पर कई घरों और वाहनों के साथ सराफा क्षेत्र में कुछ दुकानों में आग लगा दी गई। गोशाला मार्ग स्थित शीतला माता मंदिर में तोड़फोड़ की गई।इस दौरान उपद्रवियों द्वारा पेट्रोल बम भी फेंके गए। हालात काबू करने पहुंचे एसपी सिध्दार्थ चौधरी पर भी उपद्रवियों ने हमला कर दिया, इस दौरान उन्हें पैर में गोली लगी है।