बैरागढ़ में डेंगू के ‘डंक’ से हुई एक और मौत

पिछले कई दिनों से युवक की तबीयत थी खराब, चिकित्सकों के पास रोजाना पहुंच रहे है कई मरीज

भोपाल,रवि नाथानी। प्रदेश की राजधानी भोपाल के व्यापारिक नगर बैरागढ़ में डेंगू (dengue) का डंक लोगों से लोगों की मौत के आगोश में समाते जा रहे है। प्लेट्स कम होने से इस बीमारी का उपनगर वासी शिकार हो गया है। इसके चलते कई लोग प्राइवेट चिकित्सकों के क्लीनिक में इलाज करवाने पहुंच रहे है। इधर साफ सफाई का भी संत नगर में बुरा हाल है जगह- जगह दूषित पानी भरा हुआ है, यहां न तो दवाई छिडक़ाव हो रहा है और ना ही साफ सफाई।

उपनगर के जी 3 डॉक्टर ज्ञानचंदानी क्लीनिक के पास रहने वाले प्रदीप कुमार मोतियानी पुत्र रमेश कुमार मोतियानी (32 वर्ष) की गुरूवार को तबीयत खराब हुई थी, इसके बाद उसे शुक्रवार को किशनानी अस्पताल में भर्ती किया गया था। लगातार प्लेटट्स गिरने के कारण रविवार सुबह प्रदीप को चिरायु अस्पताल इलाज के लिए शिफ्ट किया गया था। शाम 4:00 बजे के आसपास उसने दम तोड़ा दिया।

बैरागढ़ में डेंगू के 'डंक' से हुई एक और मौत

10 दिन पहले हुई थी सगाई
बता दें प्रदीप की दस दिन पहले ही सगाई पक्की हुई है। उसकी दो बहनें है, जिनकी शादी हो चुकी है। प्रदीप के पिता का 15 साल पहले निधन हो गया था,वह एक क्लीनिक पर काम कर अपने परिवार को पालन पोषण रहा था।

सफाई को लेकर सुस्ती
संतनगर में डेंगू तेजी से अपना असर दिखा रहा है। हर दिन 3-4 नए डेंगू के मरीज सामने आ रहे हैं। लेकिन नगर निगम अमला साफ-सफाई और स्वास्थ्य अमला गंभीर नजर नहीं आ रहा है। उपनगर में न फॉगिंग हो रही और न ही जलभराव वाले स्थानों पर दवाई डाली जा रही। सरकारी और निजी अस्पतालों में मरीजों की संख्या हर दिन के साथ बढ़ रही है। मच्छरों के खिलाफ अभियान की जरूरत है।