कैबिनेट मंत्री बोले-”वक्त बदला है इसलिए BJP नेता बौखला गए है”

भोपाल। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव द्वारा महिला अधिकारियों को सरकारी गुलाम कहे जाने की जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने निंदा की है। उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष द्वारा महिला प्रशासनिक अधिकारी पर टिपण्णी दुर्भाग्यपूर्ण है।वही उन्होंने बीजेपी नेताओं पर हमला बोलते हुए कहा कि वक्त बदला है इसलिए भाजपा नेता बौखलाए हुए हैं।

वहीं राजगढ़ में सीएए के समर्थन में रैली निकाले जाने के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज के खिलाफ भाजपा द्वारा एफआईआर कराने जाने पर जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि राजगढ़ में भाजपा कार्यकर्ताओं को धारा 144 में अनुमति लेकर रैली प्रदर्शन करना चाहिए लेकिन उनके द्वारा धारा 144 तोडक़र महिला कलेक्टर और महिला डिप्टी कलेक्टर से मारपीट निंदनीय है। महिला कलेक्टर को धक्का दिया गया और अधिकारियो के साथ अभद्र व्यवहार किया इस पर एक्शन लिया जाना चाहिए। विपक्ष पर निशाना साधते हुए मंत्री शर्मा ने कहा कि बगैर अनुमति लिए ये सब करना भाजपा की ये प्रवृत्ति है।

इधर सीएम की नाराजगी के बाद शर्मा ने कहा कि माफिया के नाम पर अफसरों ने हजारों को अतिक्रमण के नोटिस थमा दिए थे। मामला संज्ञान में आने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने नोटिस थमाने पर सभी संभागीय कमिश्नर्स को निर्देश दिए है। जिसमें उन्होंने कहा है कि माफियाओं के नाम पर आम लोग परेशान न हों। साथ ही माफिया मुक्त अभियान के लिए सभी संभागीय कमिश्नरों के तहत जो कमेटी बनी है उसे निर्देश दिए है कि वो देखेंगे कि माफियाओं के खिलाफ एक्शन हो रहा है या फिर आम आदमी परेशान हो रहा है।