राजधानी में अलर्ट, बाहरी लोगों और कश्मीरी छात्रों पर पुलिस की नजर

police-alert-in-bhopal

भोपाल। जम्मू कश्मीर में धारा 370 को हटाए जाने के बाद भोपाल पुलिस को अलर्ट किया गया था। पुलिस मुख्यालय ने भोपाल पुलिस को विभिन्न जगहों पर निगरानी रखने को कहा है, ताकि असामाजिक तत्व आज होने वाली विशेष नमाज, आगामी दिनों में बकराईद तथा राखी के मौके पर हिंसा या तनाव ना पैदा कर सके। मुख्यालय के आदेश पर खूफिया विभाग सहित भोपाल पुलिस ने शहर में रहने वाले बाहरी व्यक्तियों, छात्रों और कश्मीरी छात्रों का वैरिफिकेशन शुरू कर दिया है। उल्लेखनीय है कि शहर में करीब सात हजार कश्मीरी छात्र निवासरत हैं।

जानकारी के अनुसार डीआईजी इरशाद वली ने सभी थानों को त्यौहारी मौसम में अलर्ट रहने का निर्देश दिया है। पुलिस संवेदनशील स्थानों पर नजर बनाकर रख रही है। पुलिस ने अपने खुफिया तंत्र को सक्रिय कर दिया है। सोशल नेटवर्किंग साइट्स फेसबुक और वाट्सऐप तथा ट्वीटर पुलिस की वीशेष टीमें नजरें रखने का काम कर रही है। संवेदनशील इलाकों में पुलिस विशेष निगरानी कर रही है। ऐसे इलाकों के जिम्मेदारों के साथ पुलिस अधिकारी लगातार मीटिंग कर रहे हैं। 

शहर के जहांगीराबाद, कमला पार्क,शाहजहांनाबाद,बुधवारा आदी क्षेत्रों में रहने वाले हर एक कश्मीरी की पुलिस जानकारी एकत्र कर रही है। जिससे छत्रों की आड़ में कोई अस्माजिक तत्व अपने नापाक मंसूबों को अंजाम न दे सके। हरेक मुख्य चौक-चौराहों पर पुलिस तैनात कर दिए हैं। दोपहिया और चारपहिया वाहन से पुलिस शहर में पेट्रोलिंग कर रही है। जिले के कई संवेदशील क्षेत्रों में पुलिस बल की तैनाती की जा रही है। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि पूरी कार्रवाई रूटीन है। 

आगामी त्यौहारों और 15 अगस्त के मद्दे नजर शहर में सौ से अधिक चैकिंग पाइंट लगाए गए हैं। शहर की सीमाओं में प्रवेश लेने वलो सभी वाहनों की बारीकी से तलाशी ली जा रही है। होटलों,लॉज,सीमावर्ती इलाकों में बने फार्म हाउस आदी की सर्चिंग की जा रही है। रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और एयरपोर्ट पर भी पुलिस का खूफिया तंत्र संदेहीयों पर नजरें रखने का काम कर रहा है। आमजनों में सुरक्षा का भाव बनाए रखने के लिए पुलिस अधिकारी जल्द शहर के विभिन्न इलाकों में फ्लैग मार्च निकालने की तैयारी में है।