police-lathi-charge-on-outsource-bijli-worker

भोपाल। मध्य प्रदेश में बीजेपी सरकार में आउटसोर्स पर बिजली विभाग में लंबे समय से काम कर रहे कर्मचरियों ने रविवार को राजधानी में नियमतीकरण की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान राजधानी में पुलिस ने उनपर जमकर लाठीचार्ज कर दिया। जिसके बाद प्रदर्शन कर रहे बिजली कर्मचारियों में आफरा तफरी मच गई। वहीं, बीजेपी ने कमलनाथ सरकार को इस मामले पर जमकर घेरा। बीजेपी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने सत्ता में आने से पहले बिजली कर्मचारियों से वादा किया था। लेकिन अब पर उनपर लाठियां चलवा रही है। 

कर्मचारियों का आरोप है कि चुनाव से पहले सभी कर्मचारियों के बिजली विभाग में मर्ज करने का आश्वासन दिया गया था, लेकिन सरकार बनने के बाद हमारी सभी मांग भूला दी गई। कर्मचारियों का कहना है कि कांग्रेस ने 45 हजार कर्मचारियों को नियमित करने का वादा किया था लेकिन सरकार बनने के 8 महीने बाद भी मांगों पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। सरकार को एक बार फिर ध्यान दिलाने के लिए कर्मचारियों ने प्रदर्शन का ऐलान किया था। 8 से 10 हजार की संख्या में एकत्रित हुए कर्मचारियों ने रैली निकाली। फिर एक जगह एकत्रित होकर प्रदर्शन कर रहे थे। इसी दौरान पुलिस ने बर्बरतापूर्वक इन पर लाठियां बरसा दी, जिससे कई कर्मचारी घायल हो गए। पुलिस की कार्रवाई से कर्मचारियों में आक्रोशित हैं और आगे उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।