मध्य प्रदेश में रद्द हुईं पुलिसकर्मियों की छुट्टियां, डीजीपी ने लोगों से की यह अपील

भोपाल। मध्य प्रदेश में हाईअर्ट जारी कर दिया गया है। प्रदेश भर में पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द करदी गई हैं। लगातार हो रहे नागरिकता संशोधन कानून के खिला प्रदर्शन पर भी रोक लगा दी गई है। किसी भी तरह के धरने प्रदर्शन कलेक्टर की अनुमति के बिना नहीं हो सकेंगे। मध्यप्रदेश के कई जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई है। मध्यप्रदेश के डीजीपी ने पुलिस अधिकारियों के छुट्टी का आदेश जारी किया है।

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में हो रहे प्रदर्शन को देखते हुए मध्यप्रदेश पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी है। 18 दिसंबर से आगामी आदेश तक पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द करने का आदेश दिया गया है। आदेश की कॉपी सभी जिलों के आला पुलिस अधिकारियों को भेजी गई है। वहीं, मंडला में धारा 144 लागू कर दिया गया है।

इन जिलों में लगी धारा 144

भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष ठाकुर ने आरोप लगाया है कि 19 जिलों के युवा मोर्चा के अध्यक्ष को कलेक्टर ने बुलाकर दबाव बनाया है और आंदोलन कैंसल करने को कहा है। बता दें कि छिंदवाड़ा, विदिशा, रायसेन, राजगढ़ और रतलाम समेत कई जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई है।