भोपाल/अनूपपुर, मो अनीश तिगाला| मध्यप्रदेश (MadhyaPradesh) की 27 सीटों पर होने वाले उपचुनाव (Byelection) की तारीखों का ऐलान भले न हुआ हो, लेकिन जंग तेज हो गई है| यह चुनाव रोचक मोड़ पर है, जहां दल बदल कर नेता मैदान में हैं, तो वहीं एक प्रशासनिक अधिकारी भी चुनाव लड़ने ताल ठोक रहे हैं| अनूपपुर विधानसभा सीट (Anupur Assembly Seat) पर राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी रमेश सिंह ने चुनावी मैदान में उतरने की तैयारी कर ली है। रमेश सिंह ने चुनावी तैयारी के मद्देनजर आज राज्य प्रशासनिक सेवा के संयुक्त कलेक्टर पद से इस्तीफा भी दे दिया है।

अनूपपुर जिले के ग्राम खाड़ा के निवासी रमेश सिंह राज्य प्रशासनिक सेवा में रहते हुए सतना, उमरिया, डिंडोरी समेत कई जिलों में सेवाएं दे चुके हैं| रमेश सिंह के चुनाव लड़ने की अटकलें इससे पहले लोकसभा चुनाव के दौरान भी जोरों पर थीं| अब रमेश सिंह ने फिर कांग्रेस से दावेदारी ठोकी है। राज्य प्रशासनिक सेवा के संयुक्त कलेक्टर पद से इस्तीफा देने से पहले उन्होंने भोपाल में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ (Kamalnath) से मुलाकात की थी| बताया जा रहा है कि कमलनाथ से मिले आश्वासन के बाद उन्होंने मंगलवार को नौकरी से इस्तीफ़ा दिया है|

कांग्रेस ने कुंजाम को बनाया प्रत्याशी
रमेश सिंह के कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ने की चर्चा है| हालांकि कांग्रेस ने यहां विश्वनाथ सिंह कुंजाम को प्रत्याशी बनाया है| माना जा रहा है कि अब कांग्रेस प्रत्याशी बदलने पर भी विचार कर सकती है। ऐसा न हुआ तो वे किसी और दल से मैदान में उतर सकते हैं| रमेश सिंह ने पिछले माह अनूपपुर में वाहन रैली निकालकर ताकत दिखाई थी, तब यह माना जा रहा था कि कांग्रेस उन्हें टिकट दे सकती है| लेकिन जब सूची जारी हुई तो उनका नाम नहीं था|

बिसाहूलाल के इस्तीफे से खाली हुई सीट, भाजपा ने बनाया मंत्री

अनूपपुर विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव में खाद्य नागरिक, आपूर्ति व उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह भाजपा के संभावित उम्मीदवार होंगे। कांग्रेस के टिकट पर वे पिछला चुनाव जीते थे, लेकिन इस्तीफ़ा देकर वे भाजपा में चले गए और उन्हें मंत्री बनाया गया|