सिंधिया समर्थक कांग्रेस विधायक ने राज्यपाल को लिखा पत्र, लापता भाई की तलाश के लिये मांगी मदद

भोपाल। सिंधिया समर्थक कांग्रेस विधायक मनोज चौधरी के भाई ने उनके लापता होने को लेकर राज्यपाल को पत्र लिखा है। आपको बता दें कि सिंधिया समर्थक विधायक बेंगलुरू में हैं और उनका अपने घरवालों से भी कोई संपर्क नहीं है।
इस बीच हाटपिपल्‍या के कांग्रेस विधायक मनोज चौधरी के भाई बलराम चौधरी ने राज्यपाल को लिखे पत्र में कहा है कि 9 मार्च 2020 की शाम से उनके भाई मनोज चौधरी घर वापस नहीं आये है जिसके कारण परिवारजन काफी परेशान है। हमने बहुत कोशिश की पर उनका कोई पता नहीं लग रहा है।

कांग्रेस विधायक मनोज चौधरी के भाई बलराम चौधरी का कहना है कि मीडिया के माध्यम से मिली जानकारी से पता चला है कि मेरे भाई मनोज चौधरी को बेंगलुरू के एक रिसोर्ट मेंर कैदी बनाकर रखा गया है। उसके बाद मेरे पिता नारायण चौधरी मध्य प्रदेश के मंत्री जीतू पटवारी के साथ 12 मार्च 2020 को बेंगलुरू भी गए थे, लेकिन वहां पहुंचने के बाद पता चला कि बीजेपी नेताओं ने मनोज चौधरी को कैद कर रखा है। मनोज चौधरी के पिता ने उन्हें छुड़ाने की कोशिश की तो बीजेपी नेताओ ने उनके साथ मारपीट की और फिर कर्नाटक पुलिस ने मंत्री जीतू पटवारी को भी गिरफ्तार कर लिया।
बलराम चौधरी ने राज्यपाल से अपने भाई मनोज चौधरी को बीजेपी नेताओं की कैद से रिहा कराने की अपील करते हुए बीजेपी नेताओं पर कड़ी कार्रवाई की भी मांग की हैं।