8 फरवरी को MP में राहुल गांधी का चुनावी शंखनाद, किसानों को करेंगें संबोधित, 24 सीटों पर फोकस

rahul-gandhi-will-address-8--feb

भोपाल।

विधानसभा चुनाव में जीत का परचम लहराने के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी फिर भोपाल आ रहे है। वे यहां किसानों को धन्यवाद ज्ञापित करेंगें। वही लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी और कार्यकर्ताओं में जोश भरेंगें। राहुल के इस दौरे को 2019  मिशन का आगाज माना जा रहा है।खबर है कि लोकसभा चुनाव को देखते हुए राहुल कोई बड़ी घोषणा कर सकते है।इससे पहले वे मुख्यमंत्री कमलनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में भोपाल आए थे और विपक्ष के साथ मिलकर शक्ति का प्रदर्शन किया था।हो सकता है वक्त के बदलाव का जैसे नारे के साथ  फिर कांग्रेस मैदान में उतरे। वही इस दौरे ने बीजेपी की धड़कने तेज कर दी है।

दरअसल, प्रदेश में 15 साल बाद हुई सत्ता में वापसी के कांग्रेस लोकसभा चुनाव पर फोकस किए हुए है। मध्यप्रदेश में कांग्रेस 22 -24 सीटों का लक्ष्य लेकर चल रही है। विधानसभा की तरह ही लोकसभा में भी कांग्रेस किसानों को ही आधार बनाने की तैयारी में है। इसलिए ये सभा आयोजित की जा रही है। इस दिशा में पार्टी स्तर पर काम भी शुरु हो गया है। राहुल गांधी ने बीते साल 6 जून को पिपल्या मंडी में किसानों की आमसभा में मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर 10 दिन में कर्जमाफी की घोषणा की थी। इसके बाद प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही शपथ लेने के डेढ़ घंटे बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने वादा निभाते हुए किसानों का दो लाख तक का कर्ज माफ कर दिया था। इस सभा मे राहुल किसानों की कर्जमाफी का वादा पूरा करने की बात रखेंगें और जीत के लिए सभी किसानों का धन्यवाद देंगें। 

सुत्रों की माने तो राहुल के दौरे से पहले एक विशेष टीम सभी 29 लोकसभा क्षेत्रों में जमीनी स्तर का फीडबैक ले रही है।टीम द्वारा पता लगाया जा रहा है कि कहां स्थिति कमजोर है और कहां मजबूत। इसी के आधार पर आगे की तैयारियां की जाएगी। राहुल की कोशिश मध्यप्रदेश से 24 सीटें जीतने की है। मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में अपनी सरकार बनाने वाले राहुल यहां ज्यादा से ज्यादा सीटें कांग्रेस के खाते में करने की रणनीति पर काम कर रहे हैं। इसके लिए उन्होंने प्रदेश सरकारों को भी अलर्ट कर दिया है। टीम राहुल की कमान प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया को सौंपी गई है। कहा जा रहा है कि जिस तरह से विधानसभा चुनाव में बडे नेताओं ने एकजुटता दिखाई थी उसी तरह वह लोकसभा चुनाव में भी करेगी। दौरे के दौरान सिंधिया, कमलनाथ, दिग्विजय ,बावरिया, अरुण यादव, सुरेश पचौरी और अजय सिंह जैसे बड़े नेता भी मौजूद रहेंगें।

प्रदेश कांग्रेस के प्रशासन प्रभारी महामंत्री राजीव सिंह ने जानकारी देते हुए बताया है कि आयोजित आमसभा में किसानों की अधिकाधिक संख्या में उपस्थिति रहे, इसके लिए निर्वाचित विधायकगण, कांग्रेस पक्ष के निर्वाचित जनप्रतिनिधि, जिला और शहर कांग्रेस अध्यक्ष, ब्लाक कांगे्रस अध्यक्ष, मंड़ी, नगरीय निकाय के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्षों से आग्रह किया गया है कि वे 8 फरवरी को आयोजित सभा में किसानों की अधिकाधिक उपस्थिति दर्ज कराये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here