मप्र में 13 दिसंबर से फिर आ सकता है बारिश का दौर, घने कोहरे का भी पूर्वानुमान

भोपाल। मध्यप्रदेश में आ रही बर्फीली हवाओं के बाद 10 जिलों में कोहरे की आशंका व्यक्त की गई है। मौसम विभाग के मुताबिक 13 दिसंबर से एक बार फिर गरज-चमक के साथ बारिश का पूर्वानुमान है। इसके बाद प्रदेश में और अधिक ठंड बढ़ जाएगी। फिलहाल सबसे कम तापमान बैतूल का 8 डिग्री से पहुंच गया है। 

भोपाल स्थित मौसम केंद्र के मुताबिक 11 दिसंबर तक पूरे मध्य प्रदेश में मौसम शुष्क रहेगा। मध्य प्रदेश के ग्वालियर, चम्बल और भोपाल संभागों के जिलों में 12 और 13 दिसंबर को हल्की बारिश होगी। 14 दिसंबर तक मौसम साफ हो जाएगा और पश्चिम मध्य प्रदेश में तापमान विशेष रूप से कम होने लगेगा। अगले 2-3 दिनों के दौरान उत्तरी मध्य प्रदेश में (ग्वालियर, चम्बल रीवा एवं सागर संभाग) हल्के से मध्यम कोहरा छाने की रहने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक उत्तरी हवा फिलहाल कम आ रही है, जिसकी रफ्तार 13 दिसंबर से बढऩे वाली है। इसके बाद मध्यप्रदेश में और अधिक कंपकपाने वाली ठंड हो जाएगी।

सामान्य से कम हुआ तापमान

पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश का मौसम शुष्क रहा। न्यूनतम तापमान में सभी संभागों के जिलों में विशेष परिवर्तन नहीं हुआ। होशंगाबाद, जबलपुर, भोपाल और इंदौर संभागों के जिलों में सामान्य तथा शेष संबागों के जिलों में सामान्य से अधिक रहे। प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 8 डिग्री बैतूल में दर्ज किया गया।

कहां है सबसे कम तापमान

बैतूल- मध्यप्रदेश में इस वक्त सबसे कम तापमान बैतूल जिले में पहुंच गया है। यहां न्यूनतम तापमान 8 डिग्री पहुंच गया है। जबकि पूरे सप्ताह 8 डिग्री के आसपास बना रहेगा। जबकि मंगलवार तक यहां कोहरा छाए रहने का अनुमान है, जबकि 13 दिसंबर से तीन-चार दिनों तक गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे और बारिश का पूर्वानुमान है।

पचमढ़ी- आमतौर पर सबसे ठंडा रहने वाला पचमढ़ी में इस समय 8 डिग्री न्यूनतम तापमान है। यहां अधिकतम तापमान 24 डिग्री से नीचे आ गया है। यहां भी पहाड़ और जंगल होने के कारण अच्छी ठंड पडऩे लगी है।

उमरिया- उमरिया में भी तापमान कम होने लगा है। यहां फिलहाल 10 डिग्री से. तापमान पहुंच गया है। यहां हर साल तापमान जीरो डिग्री के करीब तक पहुंच जाता है। सोमवार को यहां भी हल्का कोहरा छा गया था। इसके साथ ही 13 दिसंबर से तीन दिनों तक हल्की बारिश और गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे का पूर्वानुमान है।

ग्वालियर- उत्तर भारत से लगे ग्वालियर-चंबल संभाग में भी न्यूनतम तापमान 9 डिग्री से नीचे पहुंच गया है। यहां 12 दिसंबर से 8 डिग्री के नीचे पहुंचने का पूर्वानुमान है। जबकि 13 दिसंबर से तीन-चार दिनों तक बादल छाए रहेंगे और गरज-चमक के साथ बारिश का पूर्वानुमान है।

भोपाल- यहां न्यूनतम तापमान 13 डिग्री से नीचे चले गया है। 12 दिसंबर से इसमें एक डिग्री की गिरावट का अनुमान है। मौसम विभाग के मुताबिक 13 दिसंबर से तीन-चार दिनों तक यहां बारिश और गरज चमक के साथ बारिश का अनुमान है।

इंदौर- मालवा क्षेत्र में तापमान में गिरावट शुरू हो गई है। इंदौर शहर में पारा 13 डिग्री पर पहुंच गया है। दो दिन बाद यहां 12 डिग्री से नीचे पहुंच जाएगा। जबकि अधिकतम तापमान में भी गिरावट होने लगी है। यहां भी 13 दिसंबर से दो-तीन दिनों तक बादल छाए रहेंगे और गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है। इसके बाद आंशिक कोहरा भी आ सकता है।

जबलपुर- सोमवार को जबलपुर में न्यूनतम तापमान 12 डिग्री और अधिकतम तापमान 27 डिग्री रिकार्ड किया गया। मौसम विभाग के मुताबिक लगातार तापमान में गिरावट देखने को मिलेगी। 13 दिसंबर के बाद तीन-चार दिनों में गरज-चमक के साथ बारिश का पूर्वानुमान है।

खजुराहो- विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल खजुराहो में सोमवार को न्यूनतम तापमान 11 डिग्री से. रहा, जबकि अधिकतम तापमान 27 डिग्री। यहां सुबह के वक्त हल्का कोहरा छाया रहा, जबकि तीन दिनों तक यही स्थिति रहने वाली है। मौसम विभाग के मुताबिक 13 दिसंबर से तीन दिनों तक गरज-चमक के साथ बौछारें या बारिश हो सकती है।