राम मंदिर:नरोत्तम का दिग्विजय पर तंज-कबीरदास की उल्टी वाणी, बरसे कंबल भींजे पानी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर (Ram temple in Ayodhya) का भूमि पूजन (Land worship) होने जा रहा है। इसकी तैयारियां अपने अंतिम चरण में है। प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Modi) समेत देश भर के 200 लोगों को राम मंदिर ट्रस्ट (Ram Mandir Trust) ने न्योता भेजा है। वहीं राम मंदिर को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (Former Chief Minister and Rajya Sabha MP Digvijay Singh) ने ट्वीट कर कहा कि आज समूचा देश भी राम भरोसे ही चल रहा है, इसीलिए हम सबकी आकांक्षा है कि जल्द से जल्द एक भव्य मंदिर अयोध्या राम जन्म भूमि पर बने।

दिग्विजय सिंह द्वारा किए ट्वीट को लेकर प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Dr. Narottam Mishra) ने कहा, कुछ लोगों की आदत होती है आलोचना करने की। इसलिए वो जब बोलते है उल्टा ही बोलते है और अच्छे में भी बुराई ही ढूंढते है। गृहमंत्री ने कहा आलोचना ही सही पर कमसे कम उन्होंने राम का नाम तो लिया। उन्होंने कहा कांग्रेस के कारण ही राम मंदिर निर्माण में देरी हुई है।नरोत्तम ने कहा कि आदणीय दिग्विजय जी के लिए तो बस इतना ही कहूंगा कि……कबीरदास की उल्टी वाणी, बरसे कंबल भींजे पानी। उन्हें तो अच्छाई में भी बुराई नजर आती है लेकिन उन्होंने आलोचना में ही सही कम से कम भगवान राम का नाम तो लिया …!

कोरोना (corona) के चलते बढ़ रही बेरोज़गारी (Unemployment) को लेकर सरकार पर लगाए जा रहे आरोपों पर गृहमंत्री ने बताया कि, प्रवासी मजदूरों को रोज़गार देने की प्रक्रिया शुरू हो गयी है। उन्होंने कहा जो प्रवासी मजदूरों की संख्या आई उसमे से 36 हज़ार 808 टेक्निकल मजदूरों को रोजगार दिया जा चुका है। मनरेगा (MANREGA) के तहत 1 लाख 93 हज़ार 174 लोगों को रोजगार दिया जा चुका है। संबल के पोर्टल पर हितग्राहियों को 3 लाख 24 हज़ार 715 को रोजगार दिया जा चुका है। स्किल मैपिंग के तहत कारपेंटर वेल्डिंग करने वाले आदि को भी कम देना चालू कर दिया है। गृहमंत्री ने बताया कि अभी तक 13 लाख 10 हज़ार 186 प्रवासियों को खाद्यान वितरण का काम किया जा रहा है। वहीं उन्होंने कहा सरकार पर जो भी आरोप लगाए जा रहें है वें सब काल्पनिक है।

कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने आज से किल कोरोना अभियान पार्ट-2 (Kill Corona Campaign Part-2) की शुरुआत होने जा रही है। अभियान की जानकारी देते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि किल कोरोना पार्ट-2 का नारा है “संकल्प की चेन जोड़ो और कोरोना से नाता तोड़ो।” उन्होंने बताया कि 14 दिनों के लिए यह अभियान चलाया जाएगा, इस दौरान सभी मंत्री और नेताओं पर 14 दिनों का प्रतिबंद है कोई भी इस अवधि में सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं करेगा। इस दौरान कोई भी राजनीतिक दल अपनी रैली, सभा व प्रदर्शन नहीं कर सकते है सभी पूर्णतः प्रतिबंद रहेगा। गृहमंत्री ने बताया कि मुख्यमंत्री ने सभी मंत्री, विधायक और सांसदों को निर्देश दिए है कि वे अपने विधानसभा क्षेत्र में स्वास्थ्य के उपकरण खरीदें। वहीं उन्होंने बताया कि 500 करोड़ के लगभग की गौड़ खनिज की राशि को भी इस बार स्वास्थ्य के लिए उपयोग किया जाएगा।

कमलनाथ को भी जमकर घेरा

वही मिश्रा ने कमलनाथ को लेकर कहा कि कमलनाथ जी को तो कहने का अधिकार ही नहीं है।शीशे के घरों में रहने वाले यदि दूसरों पर पर पत्थर फेंकेंगे तो कैसे काम चलेगा।
कांग्रेसपहले ये तो देख लें कि विधानसभा चुनाव के वचन पत्र में उसने जनता से क्या वादा किया था और उसकी सरकार ने किया क्या…?