कांग्रेस में बड़े से लेकर छोटे पदों के रेट तय – कमलनाथ दे जवाब दादा कौन

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मध्यप्रदेश NSUI के प्रदेश अध्यक्ष आशुतोष चौकसे के वायरल कथित आडियो पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से जवाब मांगा है कि पद के लिए रिश्वत देने के आडियो में जिस दादा की बात हो रही है, बताए यह दादा कौन है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर मध्यप्रदेश में कांग्रेस की जिला मुख्यालयों में आयोजित की जा रही प्रेस कांफ्रेस पर मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का बयान सामने आया है उन्होंने कहा की लोकतंत्र की मजबूरी कहे, खूबसूरती कहे जिनकी वजह से ये समस्या खड़ी हुई ओबीसी की, वह आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे है, जिन्होंने आरक्षण का पाप किया वो प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान साफ कर चुके है, कि हम भी आरक्षण के साथ चुनाव कराने के लिए प्रतिबद्ध वचनबद्ध है, जो भी आवश्यक होगा वह प्रयास हम करेंगे, वही बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और खुद के दिल्ली दौरे पर भी गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि सॉलिसिटर जनरल, एडिशनल सॉलिसिटर जनरल से मुलाकात की, विधी विधि विशेषज्ञों से भी राय ली है, कि इस मामलें में सुप्रीम कोर्ट में सरकार मोडीफिक्शन लगाए।

यह भी पढ़ें…. युवा कांग्रेस का भोपाल में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन आज, भारी पुलिस बल तैनात

वही सुप्रीम कोर्ट के राजद्रोह कानून पर रोक लगाने पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का पालन किया जाएगा, वही प्रदेश में कोरोना के मामलों पर भी गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने प्रदेश की जनता से कोरोना प्रोटोकाल का पालन करने की अपील की है उन्होंने कहा 24 घंटे में प्रदेश में 40 नए मामले सामने आए है, 29 लोग स्वास्थ्य हुए है। प्रदेश के अंदर 230 एक्टिव मरीज है, 24 घंटे में 8000 सैंपल लिए गए, 98.7 प्रदेश में रिकवरी दर है, इसलिए जनता को घबराने की जरूरत नहीं है, प्रदेश में सरकार और स्वास्थ्य विभाग ने तमाम इंतजाम कोरोना से निपटने के किए हुए है।

इसके साथ ही गुरुवार यानि आज युवा कांग्रेस के मध्यप्रदेश सरकार के खिलाफ होने वाले प्रदर्शन गृहमंत्री ने कांग्रेस को चेताते हुए कहा कि प्रदर्शन की जगह प्रायश्चित करे यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई, वही मध्यप्रदेश के हाल ही में बनाए गए नये NSUI प्रदेश अध्यक्ष के वायरल कथित आडियो पर गृहमंत्री ने इसे कांग्रेस का असल रूप करार दिया, उन्होंने कहा कि चैटिंग देख लो ऑडियो सुन लो छोटे पद का यह रेट है तो बड़े पद पर क्या देकर आए होंगे, 8 महीने में NSUI प्रदेश अध्यक्ष क्यों बदला यह भी स्पष्ट हो रहा है ऑडियो चैटिंग से, कांग्रेस छात्र विंग को घोटालों और भ्रष्टाचार की ट्रेनिंग दे रही, बड़ा पीड़ादायक प्रसंग है और ये दादा कौन है कमलनाथ जी को स्पष्ट करना चाहिए मीडिया के सामने, कांग्रेस का दूसरा नाम करप्शन पार्टी है।