प्रदेश के किसानों के लिए राहत भरी खबर- चने और सरसों की सरकारी खरीद सोमवार से शुरू

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में किसानों के लिए राहत भरी खबर है, चना, मसूर और सरसों का न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद सोमवार 21 मार्च से शुरू होने जा रही है। किसान-कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने इसे किसानों के लिए बेहतरीन मौका बताया है, मंत्री की माने तो राज्य में खरीद संबंधी सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई हैं, वही रबी मौसम वर्ष 2021-22 में “प्राइस सपोर्ट स्कीम” में प्रदेश के किसानों द्वारा उत्पादित चना, मसूर, सरसों की उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिए 21 मार्च से 31 मई तक समर्थन मूल्य पर खरीदी की जाएगी, हालांकि पहले इन फसलों  की खरीदी गेहूं खरीद के बाद की जाती थी, जिससे किसानों को मजबूरी में कम कीमत पर अपनी उपज बेचना पड़ता था और किसानों को इसका नुकसान उठाना पड़ता था, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा, अब इसका सीधा फायदा किसानों को मिलेगा।

यह भी पढ़ें… कर्मचारियों के लिए आई बड़ी खबर, ग्रेच्युटी-फैमिली पेंशन का होगा भुगतान, आदेश जारी

हालांकि सरकार ने अब नियमों में बदलाव किया है, पहले एक हेक्टेयर जमीन पर सिर्फ 15 क्विंटल चना खरीदा जाता था, लेकिन अब 20 क्विंटल खरीदा जाएगा, किसानों से चना और सरसों की खरीद की लिमिट भी बढ़ाई गई है, इससे किसानों को लाभ मिलेगा, इसी तरह पहले एक हेक्टेयर खेत पर सिर्फ 13 क्विंटल सरसों की सरकारी खरीद होती थी, लेकिन अब इसमें वृद्धि करके 20 क्विंटल कर दिया गया है, इसी तरह पहले एक दिन में एक किसान से सिर्फ 25 क्विंटल तक खरीद की अनुमति थी, लेकिन अब नियमों में बदलाव कर दिया गया है और अब इसका फायदा सीधे सीधे किसानों को मिलेगा। नियमों के बदलाव के बाद अब  चने की फसल जो फरवरी में ही तैयार हो जाती है, लेकिन, उसकी सरकारी खरीद गेहूं के बाद होती थी, ऐसे में किसान मजबूरी में औने-पौने दाम पर अपनी उपज बेच देता था, रेट कम हो जाता था, चने की खरीद मई में होती थी, लेकिन अब गेहूं से पहले चने और सरसों की खरीद शुरू हो रही है। इससे साफ समझा जा सकता है कि प्रदेश के किसानों के लिए सरकार गंभीर है और इसी का फायदा किसानों को मिल रहा है।