सीएए और एनआरसी के विरोध में भाजपा में इस्तीफों का दौर शुरू

भोपाल| नागरिकता संसोधन कानून और एनआरसी को लेकर देश भर में हो रहे विरोध के बीच भाजपा के अंदरखाने ही खिलाफत शुरू हो गई| CAA को लेकर भाजपा मैदान में आ गई है और जनता के बीच भ्रम दूर करने की कोशिश कर रही है| इस बीच पार्टी के अंदर इस्तीफों का दौर तेज हो गया है|

प्रदेश के अलग अलग जिलों में बीजेपी के अल्पसंख्यक मोर्चा के पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं ने इस्तीफे देने शुरू कर दिए हैं| गुरूवार को खरगोन और गुना में बीजेपी नेताओं ने इस्तीफे दिए हैं| खरगोन में जिले भर के भाजपा अल्पसंख्यक पधादिकारी , सदस्य सामूहिक रूप से इस्तीफ़ा देना भाजपा कार्यालय पहुंचे| बताया जा रहा भाजपा अल्पसंख्यक जिला अध्यक्ष समेत 176 अल्पसंख्यक कार्यकर्ताओं ने नागरिकता संसोधन कानून और एनआरसी के विरोध में इस्तीफे दिए हैं| इधर प्रदेश के गुना में अल्पसंख्यक मोर्चा के जिला अध्यक्ष दिलाबर मंसूरी ने भी एनआरसी और सीएए के कारण अपने पद से इस्तीफा दे दिया हैं| उन्होंने अपना इस्तीफ़ा अ.स. मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष को दिया है|

सीएए और एनआरसी के खिलाफ हो रहे विरोध की लहर को थामने भाजपा मैदान में उतर आई है| देश भर में जनजागरण कार्यक्रम किये जा रहे हैं, समर्थन में रैलियां निकाली जा रही है| इस बीच इस्तीफों की खबरे पार्टी की मुश्किलें बढ़ा सकती है| हालाँकि अभी तक किसी बड़े नेता का इस्तीफा नहीं हुआ है, लेकिन जिस तरह पार्टी अल्पसंख्यकों के बीच अपनी पेठ बनाये रखना चाहती है, इन इस्तीफों से आगामी निकाय चुनाव में पार्टी को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है|