revenue-minister-govind-singh-rajput

भोपाल। मध्य प्रदेश में कई जिलों में बाढ़ प्रभावितों की मदद करने के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत को निरीक्षण करने के निर्देश दिए था। हाल ही में उन्होंने हवाई यात्रा कर मंदसौर क्षेत्र में बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया था। लेकिन अब उनके इस दौरा पर सवाल खड़ो हो रहे हैं। उन्होंने ग्राम बाजखेड़ी में स्थानीय तालाब के फूटने से ग्राम चांगली एवं मोहम्मदपुरा में पानी भर जाने से प्रभावित परिवारों को दी गई राहत की जानकारी भी प्राप्त की।

लेकिन अब उनकी यात्रा पर गंभीर सवाल उठ रहे है। विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने बयान दिया है। उन्होंने कहा कि मानसून यात्रा पर आए और हेलीपेड पर उतरकर हवाईसफर कर अफसरों से मिलकर उन्हीं से जानकार लेकर चले गए। प्रभावितों के पास पहुंचककर या उनसे मिलने की भी जरुरत नहीं समझी। एक खेत में या एक किसान या जिसका मकान टूटा उससे बात तक नहीं की। किसी एक को सांत्वना तक नहीं दी। सिर्फ अफसरों से मिलें और हवाई यात्रा कर चले गए। राजस्व मंत्री गोविंद  राजपूत की यात्रा पूरी तरह मानसून में पर्यटन की यात्रा थी। प्रशासन ने भी उन्हें गुमराह कर जानकारी दी। यहां हवाईसर्वे जैसे हालात नहीं है। मैं बैठक में निमंत्रित नहीं था। तो भी मैं कलेक्टोरेट पहुंच गया। वहां मंत्रीजी से यहीं कहा बैठक में अपेक्षित नहीं। बैठक के बाद चर्चा करुंगा। इसके बाद मैंने आग्रह किया तो एक किसान के घर जाकर नुकसानी देखी।