एक लाख का इनाम भी बेअसर, नहीं लगा डकैतों का सुराग

भोपाल। खजूरी थाना इलाके में किराना व्यपारी के घर डकैती के मामले में आरोपियों पर एक लाख का इनाम घोषित किए जाने के बाद भी पुलिस आरोपियों का सुराग तक नहीं जुटा सकी है। हालांकि एएसपी दिनेश कौशल के अनुसार वारदात के पीछे झाबुए के एक गैंग का हाथ होने के इमपुट मिले हैं। जिसकी तजदीक कराई जा रही है।

पुलिस के मुताबिक ग्राम बकानिया में रहने वाले सुभाष सेठ की बैरागढ़ में किराना की दुकान हैं। बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात सवा तीन बजे वह अपनी पत्नी के साथ घर में सो रहे थे। तभी उन्हें कुछ आहट सुनाई दी तो देखा कि करीब एक दर्जन बदमाश हथियार लेकर घर में घुसे हुए हैं। पति-पत्नी को देखते ही आरोपियों ने उन पर हमला कर लहुलूहान कर दिया। हथियारों के आगे बेबस दंपति ने घर की अलमारी में रखा करीब 25 तोला सोना और सात लाख रूपए केश चुपचाप बदमाशों को दे दिए। डकैतों के भागते ही दंपति ने चिल्लाना शुरू कर दिया तो घर की दूसरी मंजिल पर सौ रहे बेटा बहू नीचे आ गए, आरोपियों ने पलटकर उनपर भी हमला किया था। जिसके बाद में आरोपी फरार हो गए। वहीं बैरसिया में डाक्टर के घर हुई डकैती के भी पुलिस को सुराग हाथ नहीं लगे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here