शहादत को सलाम, रविवार को होगी मध्यप्रदेश के लाल की अंतिम विदाई

डेस्क रिपोर्ट। MI-17 हादसे का शिकार हुए मध्य प्रदेश के जांबाज़ जितेंद्र कुमार वर्मा का पार्थिव शरीर रविवार को भोपाल एयरपोर्ट पहुंचेगा। यहां से उनका पार्थिव शरीर उनके गृह ग्राम धामंदा ले जाया जाएगा जहां उनका अंतिम संस्कार होगा।

यह भी पढ़े.. Recruitment 2021: इन पदों पर निकली वैकेंसी, 50 हजार रूपए तक वेतन, जाने योग्यता

सीडीएस बिपिन रावत के साथ हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हुए लोगों में मध्यप्रदेश के लाल जितेंद्र कुमार वर्मा भी शामिल थे। जीतेंद्र सीडीएस बिपिन रावत के पीएसओ थे और काफी लंबे समय से सेना में कार्यरत थे। जीतेंद्र ग्राम धामंदा के रहने वाले हैं जो सीहोर जिले में स्थित है। शनिवार को डीएनए टेस्ट के माध्यम से जितेंद्र वर्मा के शरीर की पहचान हुई। अब यह तय हो गया है कि रविवार की सुबह 9 बजे भोपाल एयरपोर्ट पर उनका पार्थिव शरीर पहुंचेगा और भोपाल एयरपोर्ट से उन्हें सीधे धामंदा ले जाया जाएगा। धामंदा मैं राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार होगा। इस बात की पूरी संभावना है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शहीद को अंतिम विदाई देने के लिए धामंदा पहुंचेंगे। अपने पूरे गांव सहित इलाके के लिए प्रेरणा के स्रोत बने जितेंद्र कुमार की शहादत की खबर के बाद से ही गांव भर में मातम पसरा हुआ है।

यह भी पढ़े.. ट्रेनर का टार्चर, मेनका तक पहुची बेजुबान की फरियाद

जितेंद्र अपने पीछे अपने पिता शिवराज वर्मा, माँ, दो भाई दो बहनों के साथ पत्नी और एक साल के बेटे को छोड़ गए हैं। जितेंद्र की अंतिम विदाई के वक्त सेना के प्रमुख अफसर भी मौजूद रहेंगे। जिला प्रशासन व पुलिस के अधिकारियों ने शहीद को अंतिम विदाई देने की पूरी तैयारियां कर ली है। धामंदा में जाने वाली सड़क को भी तैयार कर लिया गया है और तमाम प्रशासनिक इंतजाम किए जा रहे हैं।