स्कूलों में टॉयलेट नहीं, प्रमुख सचिव को नोटिस

-Schools-not-toilet

भोपाल। मप्र मानव अधिकार आयोग राजधानी भोपाल में नवीन कन्या स्कूल तुलसी नगर, माध्यमिक शाला बिजली नगर, शासकीय माध्यमिक शाला सलैया आदि शासकीय स्कूलों के टॉयलेटों की साफ-सफाई न होने के कारण व्याप्त गंदगी के कारण छात्रों के यूरिन इन्फेक्शन के शिकार होने के मामले में संज्ञान लिया है। आयोग ने इस मामले में प्रमुख सचिव, स्कूल शिक्षा विभाग, संचालक, स्कूल शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश शासन तथा जिला शिक्षा अधिकारी भोपाल से तीन सप्ताह में प्रतिवेदन मांगते हुए पूछा है कि स्कूलों में टॉयलेट सफाई की क्या व्यवस्था है ? इसके अतिरिक्त स्कूलों में पूर्ण अथवा अंशकालीक स्वीपर्स की नियुक्ति की गई है अथवा नहीं ?

अलग जातियों के कुएं, टीकमगढ़ कलेक्टर से मांगा जवाब

आयोग ने टीकमगढ़ जिले के ग्राम सुजानपुरा में छूआछूत के चलते तीन जातियों के लोगों द्वारा अपने अलग-अलग कुएं रखने तथा एक जाति के लोगों द्वारा दूसरी जाति के लोगों को अपने कुंओं से पानी न भरने देने के मामले में संज्ञान लेकर संभागीय आयुक्त, सागर संभाग, सागर एवं कलेक्टर, टीकमगढ़ से तीन सप्ताह में प्रतिवेदन मांगा है।