शिवराज के इस फैसले को सिंधिया ने सराहा, बोले-THANK YOU

भोपाल।
सत्ता में आने के बाद से ही शिवराज सरकार प्रदेश में गहराए कोरोना संकटकाल के बीच किसानों पर विशेष फोकस बनाए हुए है।आए दिन सरकार किसानों के हित में नए नए फैसले ले रही है। अब किसानों (Farmers) को उनकी उपज का अधिक से अधिक दाम मिल सके इस दिशा में बड़ा कदम उठाते हुए सरकार ने निजी मंडियां खोलने का प्रावधान मंडी अधिनियम में कर दिया है। जिसके तहत अब व्यापारी एक ही लाइसेंस के माध्यम से प्रदेश में कहीं भी अनाज खरीदी कर सकेंगे। सरकार के इस कदम की पूर्व केन्द्रीय मंत्री और भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सराहना की है और मुख्यमंत्री शिवराज को थैंक यू कहा है।

दरअसल, सिंधिया ने ट्वीट कर लिखा है कि मध्य प्रदेश सरकार के इस निर्णय से हमारे अन्नदाताओं को निश्चित रूप से लाभ मिलेगा। किसानों को उनकी उपज का जहां अधिक दाम भी मिलेगा वहीं फसल को बेचने में भी ज़्यादा परेशानी का सामना नही करना पड़ेगा।हमारे किसान भाइयों के हित में लिये गए इस निर्णय के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी का प्रदेश के समस्त अन्नदाताओं की ओर से धन्यवाद।

बता दे कि मध्यप्रदेश सरकार ने किसानों को उनकी उपज का अधिक से अधिक मूल्य दिलाने के उद्देश्य से मंडी अधिनियम में कई संशोधन किये हैं। इनके लागू होने से अब किसान घर बैठे ही अपनी फसल निजी व्यापारियों को बेच सकेंगे। उन्हें मंडी जाने की बाध्यता नहीं होगी। इसके साथ ही, उनके पास मंडी में जाकर फसल बेचने तथा समर्थन मूल्य पर अपनी फसल बेचने का विकल्प भी जारी रहेगा। अब व्यापारी लाइसेंस लेकर किसानों के घर पर जाकर अथवा खेत पर उनकी फसल खरीद सकेंगे। पूरे प्रदेश के लिए एक लाइसेंस रहेगा। व्यापारी कहीं भी फसल खरीद सकेंगे। उन्होंने बताया कि हमने ई-ट्रेडिंग व्यवस्था भी लागू की है, जिसमें पूरे देश की मंडियों के दाम किसानों को उपलब्ध रहेंगे। वे देश की किसी भी मंडी में, जहाँ उनकी फसलों का अधिक दाम मिले, सौदा कर सकेंगे।