scindia-selected-for-president-of-sati

भोपाल। मध्य प्रदेश के विदिशा जिला स्थित सम्राट अशोक टेक्नोलॉजिकल इंस्टिट्यूट बोर्ड ऑफ गवर्नेंस के अध्यक्ष का चयन कर लिया गया है। शनिवार को हुए चुनाव में ज्योतिरादित्य सिंधिया को अध्यक्ष चुना गया है। हालांकि, चुनाव से पहले  कई तरह के आरोप प्रत्यारोप का खबरे भी आ रही थी। 

सिंधिया को बोर्ड का अध्यक्ष, पर्व मुख्यमंत्री मोतीलाल वोरा उपाध्यक्ष और डॉ. लक्ष्मीकांत मरखेड़कर सचिव निर्वाचित घोषित किए गए। बताया जा रहा है चुनवी प्रक्रिया में 20 में से 10 सदस्योंं ने हिस्सा लिया। सदस्यों में शामिल  पूर्व वित्त मंत्री राघवजी ने चुनाव प्रक्रिया का विरोध किया और उन्हों ने बहिष्कार कर वह बाहर निकल गए। असल में एसएटीआई को संचालित करने वाली महाराजा जीवाजीराव शिक्षा समिति की बोर्ड आफ गवर्नर्स के गढ़न के लिए प्रशासक द्वारा जारी सदस्यता सूची पर बवाल मचा हुआ था।

ये लगाए थे आरोप…

दावे आपत्तियों के समय पूर्व सांसद राघवजी, प्रतापभानु शर्मा, नपाध्यक्ष मुकेश टंडन और जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष श्याम सुन्दर शर्मा सहित डॉ. पद्म जैन और राममोहन सिन्हा, दीपक तिवारी और यतीन्द्र बहुगुणा ने अपनी आपत्तियां दर्ज कराईं और सदस्यता सूची को फर्जी बताते हुए यह भी कहा कि फर्जी सूची से होने वाले चुनाव अवैधानिक होंगे। जबकि प्रशासक ने सभी आपत्तियों को खारिज करते हुए उन्हीं 20 सदस्यों के नामों को असली बताया, जिसमें से 14 सदस्यों को अधिकांश सदस्य फर्जी बता रहे थे।