मौसम में परिवर्तन का दौर जारी, तापमान में गिरावट

भोपाल| मानसून की विदाई के बाद तक होती रही बारिश के बाद अब मौसम साफ़ है, जिससे ठण्ड का असर बढ़ गया है| दिन में चटक धूप और रात में लगातार तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है|  हिमाचल में हो रही बर्फ़बारी के कारण मौसम में परिवर्तन देखने को मिल रहा है|  शनिवार-रविवार की दरमियानी रात का तापमान 16.8 डिग्रीसे. दर्ज किया गया। हालांकि यह इस सीजन का सबसे कम तापमान है, लेकिन सामान्य से 2 डिग्रीसे. अधिक है। 

हवाओं के कारण राजधानी में बीती तीन रातों से धीरे-धीरे पारा गिर रहा है, वहीं प्रदेश के कुछ जिलों में कोहरे के बीच तापमान में कमी आई है।  सोमवार की दोपहर में तापमान में कुछ बढ़ौतरी महसूस की गई। जबकि इससे राजधानी भोपाल का न्यूनतम तापमान 17 डिग्री से नीचे पहुंच गया। यह सीजन का सबसे कम तापमान रहा।  मौसम वैज्ञानियों के मुताबिक अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम का प्रभाव अब कुछ कम हुआ है। उत्तर-पूर्वी हवाएं भी चल रही हैं। एक और विक्षोभ आ रहा है, इसके गुजरने के दो से तीन दिन बाद ही पता चल सकेगा कि सर्दी पर उसका क्या असर पड़ेगा। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले दो दिनों तक पूरे मध्यप्रदेश के सभी जिलों में मौसम शुष्क बना रहेगा। वहीं राजधानी में अभी कुछ दिनों में ठंड बढ़ने की बजाय तापमान में कुछ बढ़ौतरी दर्ज की जा सकती है।

राज्य के तापमान में उतार-चढ़ाव जारी है। सोमवार को भोपाल का न्यूनतम तापमान 16.8 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 18.3, ग्वालियर का 13 और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 16 सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं रविवार को भोपाल का अधिकतम तापमान 28.7 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 29.6 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 31.5 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का अधिकतम तापमान 29.6 डिग्री सेल्सियस रहा।