बसपा को लगातार दूसरा झटका, इन नेताओं ने भी थामा कांग्रेस का हाथ

-Second-consecutive-blow-to-the-BSP-khajuraho-these-leaders-also-join-congress-

भोपाल| लोकसभा चुनाव से पहले मध्य प्रदेश में बसपा को लगातार दूसरा बड़ा झटका लगा है| मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सोमवार को अपने निवास पर खजुराहो लोकसभा क्षेत्र के प्रभारी डॉ आनंद अहिरवार के साथ कई बसपा नेताओं को कांग्रेस की सदस्यता दिलाई। कांग्रेस में शामिल होने वालों में सेवालाल पटेल, जीवनलाल सिद्धार्थ, बलवान सिंह राजपूत, देवेेन्द्र कुमार चौरसिया समेत एक दर्जन नेता शामिल थे। 

इससे पहले बहुजन समाज पार्टी के कई वरिष्ठ प्रदेश पदाधिकारियों एवं पूर्व पदाधिकारियों ने प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पहुंचकर प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री कमलनाथ के समक्ष अपने समर्थकों सहित कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थी। कमलनाथ ने बहुजन समाज पार्टी से छोड़कर कांगे्रस पार्टी में शामिल हुए लोगों का सूत की माला पहनाकर उनका स्वागत किया और पार्टी का प्रतीक दुपट्टा पहनाकर उन्हें कांगे्रस पार्टी में शामिल किया। इस अवसर पर पन्ना के सपा के पूर्व नेता एवं किसान एवं मजदूर संघर्ष मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष अब्दुल रमजान चैहान ने भी कांगे्रस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। 

इस दौरान कमलनाथ ने कहा कि बीएसपी से आये पदाधिकारी मेरे परिवार के सदस्य हैं, बीएसपी के पदाधिकारी आज देश और प्रदेश का विकास करने वाली पार्टी की मुख्य धारा से जुड़े हैं, जिसका अपना एक इतिहास हैं। जो लोग डॉ. अंबेडकर के संविधान को बदलने की बात करते हैं, वह इस देश का भला नहीं कर सकते। बीएसपी के लोग कांगे्रस का नहीं, सच्चाई का साथ देने के लिए यहां आये हैं, उन्होंने 76 दिन की कांगे्रस सरकार का काम देखा है। हमारी सरकार वचन निभाने वाली सरकार होगी।  

इन्होंने ली सदस्यता

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय के सभाकक्ष बहुजन समाज पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप अहिरवार, पूर्व सांसद देवराजसिंह, देवदत्त सोनी, विधायक दल के नेता सत्यप्रकाश जाटव, बाबूलाल पहलवान, रविन्द्र कुमार पटेल, पोहप चैधरी, मंजू सराफ, कोमल प्रसाद, डॉ. विनोद राय, रामसेवक दामले सहित अन्य पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने कांगे्रस की सदस्यता ली। वहीं रविवार को  खजुराहो लोकसभा क्षेत्र के प्रभारी डॉ आनंद अहिरवार के साथ आधा दर्जन से ज्यादा नेताओं ने कांग्रेस का दामन थाम लिया|