हटाए जा सकते है शहडोल और छिंदवाड़ा कलेक्टर, ये है कारण

6062
Shahdol-and-Chhindwara-collector-can-be-removed

भोपाल।

लोकसभा चुनाव के बीच चुनाव आयोग मध्यप्रदेश के शहडोल और छिंदवाड़ा कलेक्टर पर कार्रवाई कर सकता है।दोनों ही कलेक्टरों के खिलाफ बीजेपी ने अलग अलग शिकायतें की थी। खबर है कि बीजेपी की शिकायतें सही पाई गई है। जहां शहडोल कलेक्टर पर मंत्री ओमकार सिंह मरकाम के साथ बैठक लेने का आरोप है, वही छिंदवाड़ा कलेक्टर पर कांग्रेस के पक्ष में काम करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज को पांच बजे के बाद उड़ान की अनुमति नहीं देने का आरोप है, जबकी कलेक्टर ने सीएम कमलनाथ के हेलिकॉप्टर को छह बजे के बाद उड़ान की अनुमति दी थी।

दरअसल, कैबिनेट मंत्री ओमकार सिंह मरकाम 20 अप्रैल को शहडोल कलेक्टोरेट देर रात पहुंचे थे। उस वक्त कलेक्टर ललित कुमार दाहिमा अधिकारियों के साथ चुनावी तैयारियों को लेकर बैठक कर रहे थे। आरटीआई एक्टिविस्ट अजय दुबे और भाजपा ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन बताते हुए शिकायत की। कलेक्टर की रिपोर्ट में मंत्री के कलेक्टोरेट में आने की पुष्टि तो की गई लेकिन उनके किसी बैठक में शामिल होने से इंकार किया गया। वही कमिश्वर की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया गया है कि दाहिमा बैठक मे शामिल होने पहुंचे थे।इस  मामले में आयोग ने मंत्री को नोटिस भेजकर जवाब तलब करने के साथ कलेक्टर ललित कुमार दाहिमा को बदलने की तैयारी है।

वही  छिंदवाड़ा में कलेक्टर श्रीनिवास शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के हेलिकॉप्टर शाम पांच बजे के बाद उड़ान की अनुमति नहीं दी थी। इस पर काफी विवाद भी हुआ था और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय ने अपर मुख्य सचिव मनोज श्रीवास्तव से जांच भी कराई थी। इसमें राज्य के नियमों का हवाला देते हुए कलेक्टर को क्लीनचिट दी गई थी। बीजेपी ने अपनी शिकायत इसमें यह भी उल्लेख किया है कि कलेक्टर ने जो 150 अनुमतियां दीं, उसमें इसी प्रावधान का पालन किया। इसके बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस के स्टार प्रचारक शत्रुद्यन सिन्हा सौंसर एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। यहां उनके हेलिकॉप्टर साढ़े छह बजे के बाद उड़ान भरी थी। बीजेपी ने कलेक्टर पर दोहरे रवैया का आरोप लगाया था। आयोग ने दोनों शिकायतों को सही पाया है और अब आगे की कार्रवाई होना है।सुत्रों की माने तो दोनों कलेक्टरों को जल्द हटाया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here