शहडोल एसपी का तबादला 24 घंटे के भीतर निरस्त

-Shahdol-SP-kumar-saurabh-transfer-cancel-in-24-hours

भोपाल| मध्य प्रदेश में तबादलों का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है| राज्य में नई सरकार बनने के बाद दो माह में कई दर्जनों अफसर इधर से उधर हो चुके हैं| वहीं इस दौरान कई अधिकारियों दो दो बार ट्रांसफर कर दिए गए| अब 24 घंटे के भीतर ही शहडोल एसपी का तबादला निरस्त कर दिया गया है| इस सम्बन्ध में गृह विभाग ने शुक्रवार को आदेश जारी किये हैं| 

दरअसल, राज्य शासन ने गुरूवार को भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों के तबादले किये थे| इस सूची के अनुसार तीन जिलों के एसपी बदले गए थे|  शहडोल एसपी कुमार सौरभ को एसपी शहडोल से एआईजी पीएचक्यू पदस्थ किया था| वहीं उनकी जगह किरणलता को एआईजी पीएचक्यू से एसपी शहडोल पदस्थ किया गया| गृह विभाग ने 24 घंटे के भीतर ही दोनों अधिकारियों के तबादले निरस्त कर दिए| गुरूवार को राज्य सरकार ने सीहोर समेत तीन जिलों के एसपी बदल दिए थे। सीहोर एसपी राजेश सिंह को एआईजी पीएचक्यू और सेनानी 18वीं वाहिनी विसबल शिवपुरी के शिशेंद्र चौहान को सीहोर का एसपी पदस्थ किया गया है।  इसी तरह टीकमगढ़ के एसपी भी बदल दिए गए।  कुमार प्रतीक को एसपी टीकमगढ़ से सेनानी 18वीं वाहिनी विसबल शिवपुरी, अनुराग सुजानिया को अतिरिक्त एसपी मुरैना से एसपी टीकमगढ़, आशुतोष बागरी को एआईजी पीएचक्यू से अतिरिक्त एसपी मुरैना पदस्थ किया गया है। 

बता दें कि टीकमगढ़ एसपी कुमार प्रतीक को मुख्यमंत्री कमलनाथ की नाराजगी के कारण हटाया गया है। सीएम ने बुधवार को लोकसभा चुनाव की बैठक के दौरान एसपी पर नाराजगी जताई थी। शहडोल एसपी कुमार सौरभ के खिलाफ एसटी एससी एक्ट के विरोध में भारत बंद के दौरान लाठचार्ज को लेकर आरोप लगे थे| तब शांतिपूर्ण बंद के बाद तनाव की स्थिति बन गई। प्रदर्शन कर रहे भीड़ को पुलिस ने रोका तो प्रदर्शनकारी उग्र हो गए, पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज कर दिया, जिसके बाद हंगामा हो गया। लाठीचार्ज से एक युवक का सिर फट गया और तीन लोग घायल हो गए। लाठीचार्ज के विरोध में लोगों ने प्रदर्शन किया था| आक्रोशित लोगों ने एसपी को हटाने की मांग की थी|  लेकिन इसके कुछ समय बाद ही चुनाव हो गए और सत्ता परिवर्तन हो गया| जिसके बाद नई सरकार ने गुरूवार को उन्हें हटाया था| लेकिन 24 घंटे के भीतर ही उनका तबादला निरस्त कर दिया| हालांकि अभी इसका कारण सामने नहीं आया है| 

शहडोल एसपी का तबादला 24 घंटे के भीतर निरस्त