कैबिनेट का विस्तार जल्द, पुरानी टीम को मौका दे सकते हैं शिवराज

भोपाल| शिवराज कैबिनेट (Shivraj Cabinet) के विस्तार की तैयारी अंतिम चरण में पहुँच चुकी है| मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan), भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा (VD SHarma) और संगठन महामंत्री सुहास भगत (Suhas Bhagat) के बीच मंगलवार को देर रात चर्चा हुई| कयास लगाए जा रहे हैं कि सीएम शिवराज सिंह चौहान दो-तीन दिन में दिल्ली के लिए रवाना हो सकते हैं, जहां से मंजूरी मिलते ही कौन कौन मंत्री बनेगा यह तय हो जायेगा| बुधवार को भी इस सम्बन्ध में बड़ी बैठक होने की खबर है|

मंत्री पद के लिए दावेदारों का भोपाल पहुँचने और सीएम सहित अन्य नेताओं से मुलाकात का दौर जारी है| बैठकों के बीच, मुख्यमंत्री ने उन्हें संकेत दिया है कि 31 मई से पहले तक मंत्रिमंडल विस्तार हो सकता है, लेकिन इसके लिए भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा की सहमति की जरूरत पड़ेगी। वहीं संभावना है कि शिवराज दो दर्जन से अधिक मंत्रियों को शपथ दिला सकते हैं| सूत्रों के मुताबिक ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे और कांग्रेस से भाजपा में आए नेताओं में से 8-10 लोगों को मंत्री बनाया जा सकता है| इसके साथ ही शिवराज के पिछले शासनकाल में मंत्री रहे विधायकों को भी फिर मौका देने की तैयारी है|

बता दें कि शिवराज कैबिनेट में सिंधिया खेमे से तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत को पहले ही मंत्री बना दिया गया है| अब इमरती देवी, महेंद्र सिंह सिसोदिया, प्रद्युमन सिंह तोमर, प्रभुराम चौधरी, ऐंदल सिंह कंषाना, हरदीप सिंह डंग, बिसाहू लाल सिंह, राजवर्धन सिंह दत्तीगांव और रणवीर जाटव को भी मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है| वहीं शिवराज सरकार के पूर्व के कार्यकाल में मंत्री रहे कुछ विधायकों को फिर मौका मिल सकता है|