सिंधिया..कांग्रेस के लिए ‘विलेन’, शिवराज ने बताया असली ‘हीरो’

भोपाल| कोरोना संकट काल (Corona Crisis) के बीच मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सियासत (Politics) गर्म है| मार्च में हुए सियासी घटनाक्रम की आंच अभी ठंडी नहीं हुई है और रह रहकर प्रदेश की राजनीति को सुलगा रही है| आगामी समय में होने वाले उपचुनाव से पहले भाजपा और कांग्रेस के बीच जमकर वार पलटवार देखने को मिल रहा है| इस बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने पूर्व की कमलनाथ सरकार (kamalnath Government) पर हमला बोलते हुए कांग्रेस (Congress) छोड़ भाजपा (BJP) का दामन थामने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को असली ‘हीरो’ बताया|

मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर लिखा- ‘पिछली कांग्रेस सरकार ने प्रदेश में त्राही-त्राही मचा दी थी। भ्रष्टाचार में लिप्त सरकार को उखाड़ फेंकने में मदद करने वाले ही असली लीडर, असली हीरो होते हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ऐसे नेता है, जिन्होंने प्रदेश का हित सर्वोपरि रखा और भ्रष्ट सरकार से अपने साथियों समेत किनारा किया’।

शिवराज ने अगले ट्वीट में लिखा ‘मैं मेरे उन सभी साथियों का भी सम्मान करता हूँ, जिन्होंने कमलनाथ जी की स्वकेंद्रित बँटाधार सरकार को गिराने के लिए और प्रदेश की उन्नति के लिए अपनी-अपनी राजनीतिक कारकिर्दगी को दाँव पे लगा दिया! सारे पदों को त्याग दिया! अति कठोर निर्णय लिए और उस पर अडिग रहे’।

पब्लिक है वो सब जानती है
पूर्व की कमलनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए शिवराज ने लिखा ‘सरकार बनाने और चलाने के लिए प्रजा हित को सर्वोपरि रखना पड़ता है। जो प्रदेश के मुखिया प्रजा को छोड़ एक परिवार की पूजा में लिप्त रहते हैं, वो कभी जनता की सरकार बना नहीं सकते और अगर गलती से कभी बना भी लें तो ज़्यादा दिन चला नहीं सकते। ये जो पब्लिक है वो सब जानती है’|

कमलनाथ बोले-उपचुनाव के बाद ये सरकार नहीं रहेगी 
इससे पहले पूर्व सीएम कमलनाथ ने रविवार को मीडिया से बात करते हुए कहा था कि मुझे और दिग्विजय सिंह को भी इस बात का भरोसा नहीं था कि 22 पार्टी विधायक इस तरह प्रलोभन के चलते हमारा साथ छोड़ देंगे। वहीं उन्होंने दावा किया कि उपचुनाव के बाद ये सरकार नहीं रहेगी।