प्रेमी संग मिलकर सगी बहन ने रची भाई के अपहरण की साजिश, फिरौती में मांगे थे एक करोड़

-Sister-help-with-boyfriend-plotting-kidnapping-of-brother-ayush-in-bhopal

भोपाल। ऐशबाग से दो सप्ताह पूर्व में अगवा किए गए बी.ई. छात्र आयुष चौबे के अपहरण की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। अपहरण के आरोप में आयुष की बहन और बहन के प्रेमी को हिरासत में ले लिया गया है। आयुष को रिकवर कर लिया गया है। पुलिस टीम उसे लेकर इंदौर से भोपाल आ रही है। एसपी साउथ राहुल कुमार लोढ़ा के अनुसार आयुष को अगवा कराने में उसकी बहन का हाथ था। प्री-प्लांड तरीके से आयुष का अपहरण कराया गया था। आयुष खुद भी इस प्लानिंग का हिस्सा था। 

दरअसल बहन के उपर करीब 12 लाख रूपए कर्ज था। यह कर्ज उसने अलग-अलग बैंको से घर खर्च चलाने पढ़ाई लिखाई के लिए लिया था। उसका प्रेमी भी उसे आर्थिक मदद किया करता था। कर्ज से निजात पाने उसने प्रेमी के साथ में मिलकर अपहरण की कहानी रची थी। आयुष को इंदौर सहित अलग-अलग क्षेत्रों में रखा गया। जहां पुलिस दबिश देने जाती थी, आयुष को पहले ही पता लग जाता था। जिससे वह स्थान बदल लिया करता था। एक करोड़ की फिरौती इस लिए मांगी जा रही थी कि अपहरणकर्ताओं के दबाव में आयुष के पिता पुश्तैनी जमीन को बेच दें। एक करोड़ मिलने के बदा में आयुष की बहन और प्रेमी ने शादी करने का फैसला लिया था। फिरौती की रकम मिलने के बाद में आयुर्ष को आधा हिस्सा मिलना था। बंटवारा लोन की रकम चुकाने के बाद में बची रकम का होना था।