तो क्या कोरोना वायरस पहुंचा मध्यप्रदेश

भोपाल. देश में कोरोना का कहर जारी है। इस बीच प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग अलर्ट पर आ गया है। इसके लिए वीडियो कांफ्रेंस के जरिए सभी विभागों को सचेत रहने के निर्देश दिए गए हैं। जिला अस्पताल ने इसके लिए 5 सदस्यों की एक टीम गठित की गई और दो बेड और एक आइसोलेशन वार्ड भी बनाया गया है।

इस बीच आई खबर के मुताबिक थाईलैंड से हनीमून मनाकर लौटे भिंड दंपति की जांच की गई। हालांकि शुरुआती जांच में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं पाए गए हैं। किंतु फिर भी 28 दिन तक वे स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में ही रहेंगे। एक और केस, विदेश यात्रा से लौटे 3 परिवार को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। कुछ दिनों तक स्वास्थ्य विभाग उनकी निगरानी करेगा।

बता दें कि भिंड के झांसी मोहल्ला से एक नवयुवक दंपति हनीमून के लिए थाईलैंड गए थे। 23 फरवरी को वह वापस देश लौटे और 3 मार्च को वह अपने घर भिंड पहुंचे। जिनके बाद उनके जांच हुई और उन्हें निरीक्षण में रखा गया। हालांकि उनमें कॉरोना के कोई लक्षण नहीं पाए गए हैं। इधर श्योपुर के एक युवक की भी जिला अस्पताल में जांच हुई। इस युवक में भी करने के लक्षण नहीं मिले लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने उसे अपनी निगरानी में लिया।

जिला अस्पताल के टीकाकरण अधिकारी ने बातचीत ने बताया कि छिंदवाड़ा के तीन परिवार इटली की यात्रा पर थे। उनकी वापसी के बाद उनको आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। 14 दिन तक हो स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में रहेंगे हालांकि उनमें करुणा के कोई लक्षण नहीं दिखाई दिए हैं। आइसोलेशन वार्ड में रहते हुए यह लोग अपनी करीबी से मुलाकात नहीं कर पाएंगे।

सीएमएचओ डॉ अजीत मिश्रा ने बताया कि कोरोनावायरस को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी की है। जिसके तहत जो लोग विदेशी लौट कर आ रहे हैं उनकी जांच की जाएगी।