अमेरिका से लौटा था सीनियर आईएएस का बेटा

भोपाल| स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव के कोरोना संक्रमण होने की रिपोर्ट सामने आने के बाद भी एक नया तथ्य सामने आया है ।भोपाल जिले के द्वारा घोषित किए गए विदेश से आने वाले यात्रियों की सूची में आईएएस के पुत्र के विदेश से आने का जिक्र है।

दरअसल जिला प्रशासन को उन सभी लोगों को कोरोन्टाईन में रखने के निर्देश थे जो लोग 1 मार्च से 31 मार्च के बीच विदेश से बाहर लौटे थे या जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री थी ।अब प्रमुख सचिव स्वास्थ्य के पुत्र को कोरोन्टाईन किया गया या नहीं इस बात की जानकारी अभी प्राप्त नहीं हो पाई है।यह भी सवाल है कि क्या उनकी जांच कराई गई थी। इसकी भी जानकारी अभी नहीं मिली है लेकिन प्रमुख सचिव स्वास्थ के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद अब एक बार यह सवाल भी खड़ा हो रहा है कि आखिरकार जब प्रमुख सचिवको जानकारी थी कि उनके पुत्र विदेश से लौटे हैं तो वह लगातार इतनी महत्वपूर्ण बैठकों में जिनमे मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव जैसे अधिकारी भी शामिल थे, भाग क्यों लेती रहीं और क्या इस बात की जानकारी उन्होंने मुख्यमंत्री को दी थी। इतना ही नहीं जिला प्रशासन की लापरवाही भी सामने आई है कि चार इमली के जिस बंगले में वह रहती हैं वहां पर किसी भी तरह का कोई अलर्ट बोर्ड नहीं लगाया गया। हालांकि अभी इस बात की पुष्टि होना शेष है क्या प्रमुख सचिव स्वास्थ ने अपने पुत्र को कोरोन्टाईन किया था या नही।