बिजली को लेकर मिल सकती है जल्द राहत, शिवराज ले सकते हैं बड़ा फैसला

भोपाल

मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में इस समय कोरोना (corona) का कहर है और काम धंधे चौपट पड़े हैं। इन सब के बावजूद अगर हर कोई परेशान है तो बिजली बिलों (electricity bill) के भारी भरकम झटके से। पूरे प्रदेश में इस समय बिजली के बिल  आम आदमी के साथ-साथ व्यापारी, उद्योगपति हर किसी के लिए परेशानी का सबब बन गए हैं। लॉक डाउन (lock down) के दौरान ज्यादातर उद्योग बंद रहने के बावजूद बिजली विभाग ने मई माह में जो बिजली की वसूली के बिल भेजे हैं उन्हें देखकर लोगों को गर्मी के इस मौसम में डबल गर्मी सताने लगी है।मामला मुख्यमंत्री (chief minister) तक पहुंचा है और वे जल्द इस मामले को लेकर कोई बड़ा निर्णय ले सकते हैं।

इस निर्णय के अंतर्गत बड़ी फैक्ट्रियों ,उद्योगों ,दुकानदारों और आम आदमी हर किसी के लिए रियायती पैकेज की घोषणा हो सकती है। लॉक डाउन के दौरान कई राज्यों ने इस तरह के निर्णय लिए भी हैं। ऐसे में शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) बुधवार को बिजली विभाग के अधिकारियों की बैठक ले रहे हैं और इस बैठक के बाद यह बड़ा निर्णय लिया जा सकता है कि रियायत का स्वरूप क्या हो और किस तरह से लोगों को मंदी के इस दौर में कम से कम बिजली से तो राहत मिल पाए।