मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलें तेज, जल्द दिल्ली जा सकते हैं शिवराज

भोपाल| दक्षिण भारत की दो दिन की यात्रा के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) भोपाल वापस आ गए हैं| सीएम के वापस आते ही एक बार फिर कैबिनेट विस्तार (Cabinet extension) की अटकलें तेज हो गई हैं| चर्चा है कि शिवराज जल्द ही दिल्ली रवाना हो सकते हैं| एक जुलाई से पहले मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर स्थिति साफ़ हो सकती है| कैबिनट विस्तार को लेकर शिवराज दिल्ली में केंद्रीय नेतृत्तव से मिलेंगे|

प्रदेश में चौथी बार सरकार बनाए जाने के बाद तीन महीने से ज्यादा का समय बीत गया है| लेकिन मंत्री बनने की उम्मीद लगाए बैठे नेताओं का इन्तजार अभी ख़त्म नहीं हो पाया है| शिवराज पांच मंत्रियों को शपथ दिला चुके हैं| लेकिन अब अपनी टीम में शिवराज बड़ा विस्तार करने वाले हैं| हाल ही में मुख्यमंत्री चौहान ने कहा था कि प्रदेश में मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द कर लिया जाएगा। इसके लिए हमारी तरफ से तैयारी पूरी कर ली गई है। केंद्रीय नेतृत्व से चर्चा होनी है। तब से ही दावेदारों की नजर शिवराज के दिल्ली दौरे पर टिकी है| प्रदेश के नेताओं से कैबिनेट विस्तार को लेकर मंथन हो चुका है| बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और संगठन मंत्री सुहास भगत के साथ मिलकर मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने वाले संभावित भाजपा विधायकों और ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थकों के नाम तय कर लिए हैं। अब दिल्ली से हरी झंडी मिलते ही विस्तार पर मुहर लग जायेगी|

सूत्रों का कहना है कि केंद्रीय नेतृत्व से समय मिलने पर मुख्यमंत्री रविवार को दिल्ली जा सकते हैं, इसके बाद आगामी 30 जून को शपथ दिलाई जा सकती है। इससे पहले राज्यपाल लालजी टंडन की अस्वस्थ होने के चलते छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुइया ऊइके को मध्य प्रदेश का प्रभार दिया जा सकता है।

दो दर्जन नेताओं को शपथ दिलाई जा सकती है| इनमे सिंधिया खेमे से 9 मंत्री और बन सकते हैं| कांग्रेस से आये नेताओं में प्रभुराम चौधरी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, महेंद्र सिसोदिया, राज्यवर्द्धन सिंह दत्तीगांव, बिसाहूलाल सिंह, एंदल सिंह कंसाना, हरदीप सिंह डंग का नाम है। इसके अलावा भाजपा के कुछ वरिष्ठ नेताओं को इस बार ड्राप किया जा सकता है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here