महिला अधिकारियों के समर्थन में उतरा राज्य प्रशासनिक सेवा संघ

भोपाल| राजगढ़ में कलेक्टर, डिप्टी कलेक्टर और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हुए विवाद ने अब सियासी रंग ले लिया है। भाजपा आज बुधवार को राजगढ़ में शक्तिप्रदर्शन करने जा रही है। वहीं सरकार अधिकारियों के पक्ष में खड़ी है और भाजपा पर हमला बोल रही है| इस बीच राज्य प्रशासनिक सेवा संघ भी महिला अधिकारियों के पक्ष में उतर आया है| संघ ने महिला अधिकारियों के साथ दुर्व्यवहार की निंदा की है| वहीं सीएम को पत्र लिखकर अफसरों को एक चार की गार्ड उपलब्ध करने की मांग की है|

राजगढ़ जिले के ब्यावरा में महिला अधिकारियों से दुर्व्यवहार की घटना के बाद राज्य प्रशासनिक सेवा संघ ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखा है| संघ ने अधिकारियों के साथ दुर्व्यवहार की निंदा की है| पत्र के माध्यम से संघ ने सरकार से अधिकारिओं को एक चार का गार्ड मुहैया कराने की मांग की है| उन्होंने राजस्व न्यायालय और कार्यपालिक दंडाधिकारियों को जजेस प्रोटेक्शन एक्ट की परिधि में लाने की मांग की है|

कलेक्टर निधि निवेदिता को हाईकोर्ट ने भेजा नोटिस
इधर, मध्य प्रदेश हाईकोर्ट की इंदौर खंडपीठ ने राजगढ़ में सीएए रैली में हुए घटनाक्रम के मामले में लगाई गई जनहित याचिका में मध्य प्रदेश सरकार और राजगढ़ कलेक्टर निधि निवेदिता को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। जनहित याचिका हर्षवर्धन शर्मा ने लगाई है। इस मामले में अधिवक्ता पुष्यमित्र भार्गव ने बहस की।