भोपाल आए राजस्थान के BJP अध्यक्ष सतीश पूनिया का बयान-सरकार बनी तो उतरवा देंगे लाउडस्पीकर

भारतीय जनता पार्टी राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया आज भोपाल पहुंचे। स्टेशन पर उनका स्वागत करने प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल पहुंचे।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। भारतीय जनता पार्टी राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया सोमवार को मध्यप्रदेश के भोपाल पहुंचे। स्टेशन पर उनका स्वागत करने प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल पहुंचे। वह कोटा से भोपाल आए हैं। राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया भोपाल में भाजपा नेताओं से मुलाकात कर कई मुद्दों पर चर्चा की। अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि राजस्थान में उनकी सरकार आएगी तो वहाँ भी लाउडस्पीकर उतरवा दिए जायेगे।

यह भी पढ़ें… मध्यप्रदेश- बढ़ रहे कोरोना के मामलें, निपटने सरकार की व्यवस्था दुरुस्त, बरते सतर्कता

कृषि मंत्री कमल पटेल और राजस्थान के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पुनिया ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमे राजस्थान के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पुनिया ने लाउडस्पीकर हटाने को लेकर बड़ा बयान दिया और कहा कि राजस्थान में हमारी सरकार आई तो लाउडस्पीकर हटा देंगे, वही इस मामले में कृषि मंत्री कमल पटेल जबाब देने से बचते नज़र आये और कहा कि इसका जबाब सीएम शिवराज सिंह चौहान से पूछे, वही पी सी सी चीफ कमलनाथ के सरकार आने पर किसानों के कर्ज माफ वाले बयान पर कृषि मंत्री कमल पटेल ने हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस के सारे नेता एक्सपोज हो चुंके है, जो वादे करते है पूरा नहीं करते है, अब घोषणा पत्र में वचन देते है, न ही कर्जा माफ किया और न ही किसी भी वर्ग की मांगें पूरी की, अब मप्र में कांग्रेस का कोई वजूद नहीं है, कांग्रेस मुक्त भारत का नारा कमलनाथ दिग्विजय सिंह पूरा कर रहे है और राजस्थान में अशोक गहलोत।

यह भी पढ़ें… दो साल बाद सरकारी डाक्टर्स की समर वेकेशन लीव शुरू, बिना वैकल्पिक व्यवस्था के मरीजों की बढ़ी परेशानी

वही सतीश पुनिया ने कहा कि राहुल गांधी भाजपा को जिताने में पूरा सहयोग करते है, जहाँ जहाँ राहुल गांधी गए वहाँ वहां कांग्रेस हारी है, मप्र और राजस्थान का भाई जैसा रिश्ता है, 90 दशक के बाद राजस्थान में बीजेपी की स्थिति बेहतर हुई है, हमारी कोशिश है अपनी खूबियों के साथ सत्ता में आये, वही राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राजस्थान में जुगाड़ की सरकार में बनी है, जो निकम्मी सरकार है राजस्थान को पहले पीस फुल स्टेट माना जाता था, 3 साल में 3 लाख आपराधिक मामले दर्ज हुए है, महिलाओं बच्चियों के साथ हर रोज़ रेप की घटनाएं हो रही है, राजस्थान का 60 लाख किसान कर्ज माफी का इंतज़ार कर रहा है किसान कर्ज के कारण सुसाइड कर रहे है, रीट में बड़े पैमाने पर नकल कराई गई, 30 लाख लोगों को रोज़गार देना था लेकिन सिर्फ 4 लाख को दे रहे है। और रामनवमी के जुलूस पर पाबंदी लगाई गई साथ ही कहा कि राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत बहादुरशाह जफर साबित होंगे ही बिजली को लेकर भी कांग्रेस को आड़े हाथ लिया और कहा कि राजस्थान में बिजली कटौती चुनौती बनी हुई है, कांग्रेस में बड़ा भीतरघात है।