नेताजी की जयंती पर सुभाष आरओबी की सौगात, प्रतिमा का अनावरण हुआ

लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि प्रदेश में 105 आरओबी बनाए जा रहे हैं। भारत सरकार से भी आरओबी निर्माण के लिए राशि मंजूर हुई है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आजादी के महानायक नेताजी सुभाष चंद्र बोस (Subhash Chandr Bose) की 125वीं जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने सुभाष नगर आरओबी (Subhash Nagar ROB) राजधानी की जनता को समर्पित किया। सीएम शिवराज ने प्रभात चौराहे पर नेताजी की प्रतिमा का आवरण किया और आजाद हिंद फ़ौज कॉन्सेप्ट पार्क का भूमि पूजन किया।

कार्यक्रम को सम्बोशित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस भारत माता के ऐसे सच्चे सपूत थे, जिन्होंने भारत माता को परतंत्रता की बेड़ियों से आजाद कराने के लिए अपना सब कुछ न्यौछावर कर दिया। वे अद्भुत नेता थे। मध्यप्रदेश की धरती पर अनेक क्रांतिकारियों के स्मारक बनाने का कार्य किया जा रहा है। आज ही जबलपुर स्थित नेताजी सुभाष चंद्र बोस सेंट्रल जेल में सुभाष वार्ड और विकसित किए गए संग्रहालय को आम जनता के लिए खोल दिया गया है। इससे नागरिकों को राष्ट्रभक्ति और देश प्रेम की प्रेरणा मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की  पहल पर इंडिया गेट पर नेताजी की भव्य प्रतिमा स्थापित की जा रही है। नेताजी ने आजादी की लड़ाई में जो अप्रतिम योगदान दिया था, उसके प्रति सच्चा प्रणाम है, उनके प्रति आदरांजलि है।

ये भी पढ़ें – जयंती पर विशेष : “अखंड भारत की आजादी के स्वप्नद्रष्टा नेताजी सुभाष चंद्र बोस”

अटल जी और नरेंद्र मोदी ने किया है सेनानियों का सच्चा सम्मान

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत माता की परतंत्रता की बेड़ियाँ काटने के लिए नेता जी सुभाष चंद्र बोस ने सब कुछ न्यौछावर कर दिया। वे अंग्रेजों की “फूट डालो और राज करो” नीति को समझ चुके थे। उन्होंने क्रांति का शंखनाद किया। नेता जी ने कहा था “तुम मुझे खून दो में तुम्हें आजादी दूँगा।” यह दुर्भाग्य है कि स्वतंत्रता के पश्चात उनके प्रति न्यायपूर्ण ढंग से सम्मान व्यक्त नहीं किया गया। उनके अविस्मरणीय योगदान से नई पीढ़ी प्रेरणा ग्रहण करती है। आज हम नेता जी सुभाष चंद्र बोस सहित अन्य सेनानियों के योगदान को भूल गए हैं। हमारे पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल जी ने और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेनानियों का सम्मान किया है, साथ ही सेनानियों के प्रति न्याय भी किया है। हम प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में नेताजी सुभाष चंद्र बोस के सपनों का भारत बनाने का प्रयास कर रहे हैं। भोपाल को फ्लाय ओवर, मेट्रो जैसी एक नहीं, अनेक सौगातें दी जा रही हैं। मध्यप्रदेश सरकार जनता के सहयोग से विकास के नए आयाम स्थापित कर रही है।

ये भी पढ़ें – जाने क्या है आपकी राशियों का पावर कलर, व्यक्तित्व-करियर पर देता है कैसा प्रभाव

प्रदेश में निर्माणाधीन हैं 105 आरओबी

कार्यक्रम में मौजूद लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि भोपाल देश के खूबसूरत नगरों में एक है। नरेला क्षेत्र में ओवर ब्रिज के अभाव में लोगों का काफी समय नष्ट होता था। अब इस परेशानी से उन्हें मुक्ति मिलेगी। प्रधानमंत्री मोदी ने मध्यप्रदेश सरकार के विकास के प्रयासों की सराहना की है। स्वच्छता के क्षेत्र में भी भोपाल अब इंदौर की तरह अव्वल स्थान प्राप्त करेगा। प्रदेश में करीब सवा लाख किलोमीटर की सड़कें ग्रामीण क्षेत्रों में बनाई गई थी। शहरी क्षेत्रों में भी अधोसंरचना को मजबूत बनाया जा रहा है। कठिन कोरोना काल में भी विकास के कार्य नहीं रुके। प्रदेश की जनता ने हर तरह की परिस्थिति में प्रगति के प्रयासों में कंधे से कंधा मिलाकर योगदान दिया है। मंत्री श्री भार्गव ने बताया कि प्रदेश में 105 आरओबी बनाए जा रहे हैं। भारत सरकार से भी आरओबी निर्माण के लिए राशि मंजूर हुई है। एडीबी की सहायता से प्रदेश में 260 बड़े पुल बनाए जा रहे हैं। ओंकारेश्वर में लोक निर्माण विभाग आदि शंकराचार्य जी की प्रतिमा स्थापना और क्षेत्र के विकास के विभिन्न कार्यों में भूमिका निभा रहा है।

ये भी पढ़ें – Union Budget 2022 : कई क्षेत्रों को लाभ दे सकती है मोदी सरकार, इन लोगों को मिलेगा बड़ा तोहफा!

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि आज नरेला क्षेत्र आवश्यक नागरिक सुविधाओं के कारण अलग पहचान बना रहा है। फ्लाय ओवर के निर्माण से इस क्षेत्र के निवासियों को काफी सुविधा होगी। क्षेत्र में बेहतर जल प्रदाय, बाढ़ प्रबंधन के कार्य हुए हैं। साथ ही उद्यानों के विकास, थीम पार्कों के निर्माण के कार्य निरंतर हो रहे हैं। विधायक श्रीमती कृष्णा गौर और श्री सुमित पचौरी भी उपस्थित थे। कार्यक्रम में फ्लाय ओवर पर केंद्रित लघु फिल्म भी प्रदर्शित की गई।