राजधानी में बेखौफ बदमाशों का आतंक, निगमकर्मी को चाकू मारकर लूटा

-Terror-of-rowdies-in-the-capital-looted-the-corporation-employee

भोपाल। राजधानी में बदमाशों के दिलों से पुलिस का खौफ पूरी तरह से खत्म हो चुका है। पिछले दिनों बदमाश जुबैर मौलाना को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस टीम से उसने झमाझटकी कर दी थी। कुख्यात शादाब उर्फ जहरीला ने पुलिस टीम पर फायरिंग की और स्पॉर्ट्स शॉप में घुसकर लूटपाट कर डाली। रातीबढ़ में मारपीट के बाद युवक का कैमरा छीन लिया गया था। चूनाभट्टी थाना क्षेत्र स्थित सिंचाई विभाग पंप हाउस कॉलोनी में नगर निगम के दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी से दो बदमाशों ने चाकू मारकर नकदी, मोबाइल और उसका स्कूटर छीन लिया। लूट की वारदात करने के बाद बदमाश कर्मचारी के घर पहुंचे थे, वहां भी उसके साथी के साथ मारपीट करते हुए उसका मोबाइल झपटकर ले गए है। घटना सोमवार देर रात की बताई जा रही है। 

पुलिस के अनुसार संजू ओनकर पिता स्वर्गीय बाबूलाल ओनकर (23) झुग्गी नंबर-20 दुर्गा नगर, कोलार कॉलोनी रहता है। फरियादी थाने की गुंडा लिस्ट में शामिल है। वह नगर निगम में दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी भी है। संजू ओनकर का कहना है कि मंगलवार रात वह सिंचाई विभाग पंप हाउस कॉलोनी चूनाभट्टी में था। उसके साथ उसका साथी तरुण भी था, तभी वहां रात 11 बजे टिंगू उर्फं  प्रमोद व अल्लु उर्फ  अलीम खान पहुंचा था। पहुंचते ही टिंगू और अलीम ने संजू के साथ गाली गलौज करते हुए मारपीट शुरू कर दी थी। विरोध करने पर टिंगू ने संजू के दाहिने कंधे और बांई जांघ पर छुरी से हमला कर दिया था। खून बहने के कारण संजू गिर गया था, तभी बदमाशों ने संजू की जेब में रखी स्कूटर की चाबी और 2700 रुपए की नकदी समेत मोटो ई-4 मोबाइल निकाल लिया। चाबी मिलते ही बदमाश वहां से फ रार हो गए थे। संजू ओनकर का कहना है कि लूटपाट करने क बाद उसके निवास दुर्गा नगर झुग्गी पहुंचा था। संजू के साथ उसका साथी देवेंद्र भी रहता है। घर पहुंचते ही बदमाशों ने संजू के साथ भी मारपीट की थी। मारपीट करते हुए बदमाश देवेंद्र का माइक्रोमैक्स कंपनी का मोबाइल छीनकर ले गए है। संजू ओनकर का कहना है कि वह टिंगू और अलीम को जानता है। वे अक्सर अड़ीबाजी करते थे।