ऐतिहासिक मोती मस्जिद के गुंबद से कलश चोरी करने वाला आरोपी बिहार से गिरफ्तार

शुरूआती पूछताछ में उसने बताया कि लोगों से सुना था कि कलश सोने का है इसलिए चोरी की थी। पुलिस आरोपी अंजार से पूछताछ कर रही है उसके

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। डेढ़ सौ साल से ज्यादा पुरानी ऐतिहासिक मोती मस्जिद (Moti Masjid)  के गुंबद पर लगा कलश चोरी करने वाले आरोपी को पुलिस ने बिहार से गिरफ्तार कर लिया है। चोरी की घटना के बाद से ही भोपाल के दो थानों और क्राइम ब्रांच की पुलिस आरोपी की तलाश कर रही थी।

गौरतलब है कि पिछले दिनों 5 और 6 अक्टूबर की दरमियानी रात किसी ने 160 साल पुरानी मोती मस्जिद (Historic Moti Masjid Bhopal ) के गुंबद पर लगा कलश चोरी कर लिया। घटना की जानकारी सुबह उस समय हुई जब चौकीदार की नजर गुंबद पर पड़ी, चौकीदार ने मस्जिद कमेटी को इसकी जानकारी दी। मस्जिद कमेटी के सदस्यों ने देखा तो मस्जिद के तीन गुंबदों पर लगे कलश में से एक गायब था।

ये भी पढ़ें – अजब-गजब: एक मच्छर पकड़ने पर मिलता है 400 रुपये का इनाम, जानें इस गांव का नाम 

चोरी की जानकारी मिलते ही मस्जिद कमेटी ने इसकी शिकायत तलैया थाने में की। ऐतिहासिक मोती मस्जिद में चोरी की घटना से पुलिस एक्शन में आई।  तलैया थाने के अलावा, कोतवाली थाने और क्राइम ब्रांच को भी इसमें लगाया गया। गुंबद से कलश की चोरी (Kalash stolen from dome of Moti Masjid) पर पुलिस को इसमें एक से ज्यादा लोगों के शामिल होने का शक हुआ। क्योंकि चोरी गया कलश 7 फीट लंबा है और काफी वजनी भी है।

ये भी पढ़ें – Gwalior में 100 टन गोबर से बनाया MP का सबसे बड़ा गोवर्धन पर्वत, गौसेवकों ने की पूजा

पुलिस ने छानबीन शुरू की तो कलश नाले में मिला लेकिन आरोपियों का कुछ पता नहीं लगा। पुलिस को सभी बिंदुओं पर जाँच करते हुए सूचना मिली कि घटना का मुख्य आरोपी अंजार बिहार में है। पुलिस वहां पहुंची और उसे गिरफ्तार कर ले आई। शुरूआती पूछताछ में उसने बताया कि लोगों से सुना था कि कलश सोने का है इसलिए चोरी की थी। पुलिस आरोपी अंजार से पूछताछ कर रही है उसके खिलाफ पहले भी चोरी के अपराध दर्ज हैं।

ये भी पढ़ें – MP Goverdhan Puja : सीएम शिवराज हुए शामिल, बोले – भगवान श्री कृष्ण ने गोवर्धन पूजा के माध्यम से प्रकृति संरक्षण का संदेश दिया है