भोपाल/खरगोन।
मध्यप्रदेश के खरगोन जिले में एक अधिकारी को रिश्वत लेना महंगा पड़ गया है। कलेक्टर ने अधिकारी की सेवाएं समाप्त कर दी गई हैं। कलेक्टर ने कार्रवाई करते हुए उन्हे बर्खास्त कर दिया है।कलेक्टर के इस एक्शन के बाद जनपद पंचायत में हड़कंप मच गया है।

दरअसल, 8 जनवरी को इंदौर लोकायुक्त पुलिस ने जनपद पंचायत में पदस्थ अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी अशोक पाटीदार को 3 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया था। जिसके बाद कलेक्टर गोपालचंद डाड ने उन्हें 15 जनवरी को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया था। 21 जनवरी को पाटीदार ने कलेक्टर के समक्ष में उपस्थित होकर अपना जवाब प्रस्तुत किया। जवाब संतोषजनक न होने पर कलेक्टर ने संविदा सेवाएं तत्काल प्रभाव से खत्म कर दी।।