NEET Counselling 2019: 1 जुलाई से शुरू होगी काउंसिलिंग प्रक्रिया, ऐसा रहेगा शेड्यूल

The-counciling-process-will-start-from-1st-July

भोपाल।

नीट 2019 में सफल छात्रों के लिए 150 सीटों पर प्रवेश के लिए होने वाली काउंसिलिंग 1 जुलाई से शुरू होगी।  1 जुलाई से शुरू होने वाली काउंसिलिंग के तहत मध्यप्रदेश के 14 डेंटल कॉलेज और 20 मेडिकल को मिलाकर 34 कॉलेजों में प्रवेश दिया जाएगा। काउंसलिंग 2019 में केंद्र सरकार द्वारा आर्थिक आधार पर सवर्णों के लिए आरक्षण लागू किए जाने के बाद बीएमसी में एमबीबीएस कोर्स की सीटों की संख्या बढ़कर 150 हाे गई है। 

ये रहेगी प्रक्रिया

पहली काउंसिलिंग-

काउंसिलिंग के लिए छात्राें को 27 जून को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा। उसके बाद 28 जून को शासकीय और प्राइवेट मेडिकल व डेंटल कॉलेज में अंडर ग्रेजुएट कोर्सेज की प्रवेश प्रक्रिया के लिए स्टेट मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी। स्टेट मेरिट लिस्ट जारी होने के बाद 28 जून से 1 जुलाई तक एमपी ऑनलाइन के माध्यम से च्वॉइस फिलिंग और लॉकिंग की प्रक्रिया होगी। इस फिलिंग और लॉकिंग की प्रक्रिया 1 जुलाई तक ही होगी उसके बाद पहले राउंड की सीटों का अलॉटमेंट 4 जुलाई को किया जाएगा। 4 जुलाई के बाद छात्राें को आवंटित कॉलेजों में 5 से 12 जुलाई शाम 5 बजे तक रिपोर्ट करना होगा। डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन सहित अन्य प्रक्रिया पूरी करनी होगी। वेरिफिकेशन के बाद 21 जुलाई सीट अपग्रेडेशन का विकल्प मिलेगा फिर 24 जुलाई को पहले राउंड के बाद खाली रहने वाली सीटें डिस्प्ले की जाएंगी। 

दूसरी काउंसिलिंग-

24 जुलाई से दूसरे राउंड को प्रक्रिया होगी, 24 से 26 जुलाई रात 12 बजे तक दूसरे राउंड के लिए फ्रेश च्वॉइस फिलिंग और च्वॉइस लॉकिंग की प्रक्रिया होने के बाद 30 जुलाई तक दूसरे राउंड की सीटाें का अलॉटमेंट कर दिया जाएगा। 31 जुलाई से 3 अगस्त आवंटित कॉलेजों में रिपोर्टिंग करनी होगी। उसके बाद 1 अगस्त से मॉपअप राउंड होगा जिसमें मेडिकल कॉलेज में खाली रहने वाली सीटें मिलेंगी। इसके लिए ऑनलाइन पंजीयन की शुरुआत 1 से 4 अगस्त तक होंगे। 5 अगस्त को रिवाइज्ड स्टेट मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी। उसके बाद 7 अगस्त से पुनः ऑनलाइन च्वॉइस फिलिंग व च्वॉइस लॉकिंग प्रक्रिया होगी।