ऑनर किलिंग : लव मैरिज करने वाली बेटी को पिता ने दुष्कर्म करने के बाद उतारा मौत के घाट

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। ऑनर किलिंग का एक ऐसा घिनौना मामला सामने आया है कि सुनकर माँ विचलित हो जाए, घटना भोपाल से जुड़ी है जहां ऑनर किलिंग से पहले पिता ने ही बेटी के साथ दुष्कर्म किया और फिर उसे मौत के घाट उतार दिया, पिता बेटी को जंगल में उसके मृत बेटे का शव दफ़नाने के लिए लेकर गया था। दरअसल युवती ने भागकर शादी की थी और रायपुर चली गई थी। दिवाली के मौके पर युवती अपनी छोटी बहन के घर भोपाल आई थी, इसी दौरान उसके छह महीने के बेटे की मौत हो गई और छोटी बहन ने इसकी जानकारी पिता को दी थी,जिसके बाद पिता बच्चे को दफ़नाने के बहाने लेकर बड़ी बेटी को जंगल ले गया था

Electric Vehicle खरीदने जा रहे है तो पढ़े ये खास जानकारी, टूटेंगे सारे मिथक

रातीबड़ पुलिस थाना क्षेत्र के कठौतिया के जंगल में रविवार को एक 25 वर्षीय युवती और 6 महीने की बच्चे की लाश मिली थी। इस मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है। युवती बिलकिसगंज की रहने वाली है। उसने एक साल पहले समाज से बाहर प्रेम विवाह किया था। वह अपने पति के साथ रायपुर चली गई थी। कुछ समय पहले वह मध्यप्रदेश आई थी। दीपावली के दिन वह रातीबड़ में अपनी बड़ी बहन के घर पर थी। वहां उसके बेटे की मौत हो गई। दीपावली के अगले दिन पिता अपने बेटे के साथ युवती और उसके बच्चे को लेकर जंगल ले गया। ताकि मृत बच्चे को दफनाया जा सके। वहां जाकर पिता ने पहले तो अपनी ही 25 साल की बेटी के साथ दुष्कर्म किया। फिर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। इस दौरान बेटे ने भी उसकी मदद की। पुलिस का कहना है कि आरोपी ने बेटे को सड़क पर खड़ा कर दिया था। बेटी और बच्चे के शव को लेकर जंगल के अंदर नाले के पास ले गया। वहां उसने गुस्से में बेटी से पूछा कि भागकर शादी क्यों की, इसके बाद पिता ने गुस्से में बेटी को अश्लील शब्द कहे और फिर उसके साथ दुष्कर्म किया   और उसका गला दबाकर मार डाला। बाद में दोनों के शव नाले में फेंककर बेटे के साथ घर आ गया। रातीबड़ पुलिस ने बाप-बेटे को गिरफ्तार कर लिया है।

Gwalior News : घर में घुसकर मारी गोली, पति पत्नी घायल, हमलावर फरार

गौरतलब है कि रविवार को पुलिस जानकारी लगने के बाद मौके पर पहुंची तो घना जंगल होने के कारण उसे बाहर सड़क पर लाने में ही डेढ़ घंटे का समय लग था। पुलिस ने दोनों के शवों को हमीदिया अस्पताल की मरचुरी में रखवाए थे। पुलिस को सोमवार सात बजे के करीब रात में वन विभाग के समसगढ़ के जंगलों में गश्त करते समय मिट्टी में मुंह बल गिरी महिला नजर आई थी महिला को देखकर वन रक्षक रूके तो देखा उसके पास एक बच्चा भी था। यह देखकर वन रक्षक घबरा गए और पूरे मामले की जानकारी रातीबड़ पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को पंचनामा बनाकर उसे हमीदिया अस्पताल पहुंचाया था