दहेज कुप्रथा पर राजधानी के युवाओं ने बनाई फिल्म, स्क्रीनिंग शनिवार को

भोपाल, रवि नाथानी। दहेज लेना देना कानूनी रूप से अपराध है, लेकिन अब भी ये कुप्रथा समाप्त नहीं हुई है। बल्कि जैसे जैसे हम आगे बढ़ते जा रहे हैं, शादियों में दिखावा और दहेज बढ़ने लगा है। इसी सामाजिक बुराई को दूर करने और इसके प्रति जागरूक करने के लिए भोपाल के युवा कलाकार सामने आए हैं। बैरागढ़ के कलाकारों द्वारा इस विषय पर एक फिल्म बनाई गई है जिसकी स्क्रीनिंग शनिवार को है।

संत हिरदाराम नगर के युवा सिंधी कलाकार और अभिनेता मोहित शेवानी इसमें मुख्य भूमिका निभा रहे हैं। फिल्म में दिखाया गया है कि दहेज न देने पर कैसे एक बहू को उसके ससुराल वाले परेशान करते हैं। इसमें कॉमेडी का तड़का डाला गया है और रोचक तरीके से लोगों को दहेज जैसी कुप्रथा के प्रति जागरूक करने का प्रयास किया गया है। फिल्म ‘वेडिंग बेल्स सीजन-2’ की स्पेशल स्क्रीनिंग शनिवार को होगी। यह फिल्म नंदवानी सभागार साधु वासवानी स्कूल में शाम 6 बजे दिखाई जाएगी।

फिल्म की खास बात यह है कि ये सिंधी नाटक खिटराग की पृष्ठभूमि पर आधारित है, जिसका लेखन नितिन केसवानी ने किया है फिल्म के डायरेटर आरके गिदवानी, डॉक्टर राम जवहारनी के मार्गदर्शन में बनायी गयी है। प्रोड्यूसर सतीश, निशा रायसिंघानी, सह निर्माता-सुभाष भावनानी, गुलाब अदनानी है। इसमें भोपाल के वरिष्ठ रंगकर्मी अशोक बुलानी के नाट्य ग्रुप सिंधी रंगसमूह से जुड़े कलाकारों ने अभिनय किया है। फिल्म में मुख्य भूमिका में शहर के युवा सिंधी कलाकार और अभिनेता मोहित शेवानी भी मुख्य भूमिका में नजर आएंगे। फिल्म के गाने प्लेबैक सिंगर अनु मलिक, शान और मंजूश्री आसूदानी ने गाये हैं। फिल्म के अभिनेता मोहित शेवानी ने बताया कि फिल्म का सीजन-1 वर्ष 2020 में रिलीज हुआ था। उसके बाद लोगों से मिले पॉजिटिव फीडबैक के बाद सीजन 2 भी अब रिलीज होने जा रहा है ये स्पेशल शो, साधु वासवानी कॉलेज, सबधानी कोचिंग, कलनाया न्यू मार्केट, हर्ष ट्रांसपोर्ट, शिक्षाविद विष्णु गेहानी के सहयोग से किया जा रहा है।