BJP में टिकट को लेकर घमासान, अब इस सांसद ने बढ़ाया दिग्विजय के खिलाफ शिवराज का नाम

This-MP-extended-the-name-of-Shivraj-from-Bhopal-against-Digvijay

भोपाल।

बीजेपी में टिकट को लेकर जमकर घमासान मचा हुआ है।2004 में 26  सीटों पर कब्जा करने वाली बीजेपी अब भी कई सीटों पर नाम तय नही कर पाई है। इनमें सबसे खास सीट है भोपाल लोकसभा सीट। कांग्रेस ने भोपाल से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को मैदान में उतारा है, लेकिन बीजेपी नेअबतक पत्ते नही खोले है। उम्मीदवार को लेकर जमकर मंथन किया जा रहा है।इसी बीच मौजूदा सांसद आलोक संजर ने दिग्विजय के खिलाफ पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान का नाम बढ़ाया है।

संजर का कहना है कि मैंने कभी अपने नाम के बारे में चिंता नहीं की। मेरे सामने कमल है. बीजेपी चुनाव जीतेगी. दिग्विजय सिंह को कमल हराएगा। शिवराज सिंह चौहान जन जन के नेता हैं, मामा हैं. वो राजनीति के उच्च शिखर पर हैं। उनका आना हम सबका सौभाग्य होगा। हालांकि उन्होंने कहा कि पार्टी संगठन जो भी फ़ैसला करे लेकिन मेरी नजर में शिवराज सिंह चौहान सर्वोपरि हैं।इसके पहले उन्होंने   कहा था मुझे नहीं पता चुनाव लड़ूंगा या नहीं। लेकिन पार्टी लालकृष्ण आडवानी की बेटी या किसी और टिकट देती है तो समर्थन करना मेरी पहली प्राथमिकता होगी। 

बता दें कि भोपाल सीट पर बीजेपी से कई नेताओं का नाम चल रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज, बीडी शर्मा  के साथ केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र तोमर भी इस दौड़ में शामिल है।हालांकि पार्टी अध्यक्ष शिवराज को यहां से चुनाव लड़ाए जाने के मूड मे नही है। कयास लगाए जा रहे है कि पार्टी केन्द्रीय मंत्री और मुरैना से प्रत्याशी नरेन्द्र तोमर को यहां से मैदान में उतार सकती है, वही मुरैना से उनकी जगह बीडी शर्मा को मौका दिया जा सकता है। वही शिवराज का नाम विदिशा से भी चर्चा में चल रहा है।अब देखना ये है कि पार्टी किसका नाम आगे बढ़ाती है।

गौरतलब है कि भोपाल बीजेपी का गढ़ है, इसलिए भोपाल से चुनाव लड़ना एक बड़ी चुनौती भी है।भोपाल लोकसभा सीट पर इस बार कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह को मैदान में उतारा है।1989 के बाद से बीजेपी के अभेद गढ़ को तोड़ने के लिए ही कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह जैसे कई दिग्गज नेता को यहां से मैदान में उतारा है, लेकिन सफलता नहीं मिली।लेकिन इस बार चुंकी प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है, इसलिए पार्टी को पूरा भरोसा है कि दिग्विजय इस किले को भेदने में कामयाब होंगें। वही अटकलें लगाई जा रही है कि दिग्विजय सिंह चुनावी मैदान में हैं तो भाजपा के लिए इस सीट को बचा पाना थोड़ा मुश्किल काम होगा। भोपाल सीट पर अपनी जीत दर्ज करने दिग्गी लगातार अपने क्षेत्र का दौर कर रहे हैं।