हमेशा चर्चा में रहने वाले प्रदेश के इस अफसर ने फिर किया ट्वीट, आरएसएस महासचिव के बयान पर दी राय

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  हमेशा अपने ट्वीट और बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले लोक निर्माण विभाग के उपसचिव नियाज खान ने एक बार फिर ट्वीट किया है लेकिन इस बार यह ट्वीट आरएसएस के महासचिव दत्तात्रेय होसबोले के बयान के समर्थन में किया गया है, आरएसएस महासचिव दत्तात्रेय होसबले ने  धारवाड़ में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, कि जबरन धर्म परिवर्तन बंद होना चाहिए और जो लोग अपना धर्म बदलते हैं वे इसकी घोषणा करें, संघ ने यह भी कहा कि वह किसी भी धर्मांतरण विरोधी विधेयक के पारित होने का स्वागत करेगा। “जो लोग परिवर्तित हुए हैं उन्हें घोषणा करनी होगी कि वे परिवर्तित हो गए हैं। ऐसे लोग हैं जो परिवर्तित हो जाते हैं और यह प्रकट नहीं करते हैं कि वे परिवर्तित हो गए हैं। वे दोहरा लाभ उठाते हैं, वह यहां तीन दिवसीय अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल (एबीकेएम) की बैठक के समापन पर पत्रकारों से बात कर रहे थे।

आरएसएस महासचिव दत्तात्रेय होसबले के इसी बयान का समर्थन करते हुए पर्यावरण विभाग के उपसचिव नियाज खान ने ट्वीट किया है कि ” मैं सहमत हूँ । सभी धर्म अच्छे हैं। कोई भी धर्म यह दावा नहीं कर सकता कि वह दूसरों से बेहतर है। आस्था का मामला बहुत ही व्यक्तिगत है। किसी को भी दूसरे धर्म का पालन करने के लिए मजबूर नहीं किया जाना चाहिए”।

MP Corona: फिर बढ़े कोरोना के केस, आज मिले 16 पॉजिटिव, इन जिलों की हालत गंभीर

नियाज़ खान एक ऐसे अधिकारी के तौर पर जाने जाते है जो हमेशा देश से जुड़े कई बड़े मामलों में अपनी बेबाक राय रखते है, हालांकि कई बार उनकी यही बेबाकी उन्हें विवादों में ले आती है, मगर इसके बावजूद नियाज़ खान को ना सिर्फ तेज-तर्रार बल्कि बेहतरीन और स्पष्टवक्ता के रूप में जाना जाता है, नियाज़ खान ने ट्वीट के जरिए ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील कर दी थी है कि वो सीएए-एनआऱसी के जरिए भ्रष्ट अधिकारियों को देश से बाहर करें। एनआऱसी में उन लोगों का विरोध होना चाहिए जो सरकारी धन की चोरी करते हैं। नियाज़ खान ने ट्वीट मे लिखा था कि भारतीय नागरिक होने के नाते आपसे निवेदन कर रहा हूं कि इस बात पर विचार करें, नियाज़ खान ने ट्वीट के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि वो सीएए-एनआऱसी के जरिए भ्रष्ट अधिकारियों को देश से बाहर करें। एनआऱसी में उन लोगों का विरोध होना चाहिए जो सरकारी धन की चोरी करते हैं।  अधिकारी ने कहा भारतीय नागरिक होने के नाते आपसे निवेदन कर रहा हूं कि इस बात पर विचार करें।

अंडर वर्ल्ड डॉन अबू सलेम की प्रेमकथा लिखने के मामले में मशहूर हुए राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी नियाज खान ने अब  तक 6 नावेल भी लिख चुके है। उनका ONCE I WAS BLACK MAN  छठा नावेल है। जो ढाई साल की रिसर्च के बाद लिखा गया है| उन्होंने अपने नावेल के माध्यम से दुनिया में श्वेत और अश्वेत नस्लों का मुद्दा उठाया है।

हमेशा चर्चा में रहने वाले प्रदेश के इस अफसर ने फिर किया ट्वीट, आरएसएस महासचिव के बयान पर दी राय